निवाडी़

साहूकार से परेशान सफाई कर्मचारी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, थाना,सीएम हेल्पलाइन में की थी शिकायत,पर नही हुई कार्रवाई

निवाडी — मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले में साहूकार से परेशान एक सफाई कर्मचारी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या कर ली है। जेल परिसर में पेड पर फांसी के फंदे से लटकता शव मिला है। सफाई कर्मी को साहूकार द्वारा लगातार प्रताडित कर रहा था। जिसे लेकर कर्मचारी ने एक दिन पहले इसकी शिकायत थाने सहित सीएम हेल्पलाइन पर की थी। इसके बाद भी साहूकार के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की गई। उप जेल निवाड़ी में पदस्थ सफाई कर्मचारी विष्णु कुमार लम्बे समय से परेशान था वही अब इस मामले में पुलिस जांचकर आवश्यक कार्यवाही की बात कह रही है, जबकि समय रहते अगर पुलिस कार्यवाही कर देती तो एक कर्मचारी की जान बचाई जा सकती थी और उसका परिवार उजडने से बच जाता।

दरअसल यह पूरा मामला निवाड़ी जिले का है जहां निवाड़ी उप जेल में पदस्थ सफाई कर्मचारी विष्णु कुमार ने निवाड़ी कस्बा निवासी एक साहूकार बिढठुल दुबे से करीब 1 लाख 70000 हजार रूपये कर्ज ले रखा था, जिसके एवज में साहूकार बिढठुल दुबे ने कर्मचारी की पास व एटीएम अपने पास रख रखा था, कर्मचारी की वेतन खाते में पहुंचते ही साहूकार पूरा पैसा निकाल लेता था, जिससे कर्मचारी आर्थिक एवं मानसिक रूप से परेशान था, और घर का खर्चा न चलने के कारण बच्चों व पत्नि को अपने घर ग्वालियर छोड रखा था, यह बात विष्णु कुमार ने अपने हाथ में लिये सुसाईडनोट सहित दो दिन पहले 5 अगस्त 2021 को अपने मित्र निवाड़ी निवासी अनुराग चतुर्वेदी को बताते हुये कहा था कि में आत्महत्या करने जा रहा हूं, अनुराग चतुर्वेदी ने उसे समझा-बुझाकर अपने पास बैठा लिया और इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन 181 पर करने के साथ ही डायल 100 पुलिस को दी, जहां डायल 100 उसे पुलिस थाने ले गई, जहां पुलिस ने साहूकार के खिलाफ कार्यवाही करने की बजाय उसके कहने पर सफाई कर्मचारी विष्णु कुमार को पुलिस थाने से भगा दिया, तथा सीएम हेल्पलाइन से भी शिकायत वापिस लेने के लिये कहा गया, इस सबसे परेशान और हारथक कर आज रात सफाई कर्मचारी ने जेल परिसर में स्थित अपने सरकारी आवास के पास नीम के पेड पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

इस मामले में पुलिस भी इस बात को स्वीकार रही है कि जेल कर्मचारी द्वारा शिकायती पत्र दिया गया था, चूंकि यह लेनदेन का मामला था इसलिए दोनों पक्षों को बुलाकर काउंसलिंग भी कराई गई थी जिसकी जांच चल रही थी इसी बीच आज उक्त जेल कर्मचारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, जिसकी भी जांच की जाएगी, और जांच के बाद जो तथ्य सामने आएंगे उसके हिसाब से कार्यवाही की जायेगी।

Back to top button