अशोकनगर

तबाही के बाद आई चौंकाने वाली घटना, सिंध नदी ने उगला चांदी, ग्रामीणों में खोदने की लगी होड़

अशोकनगर — कोलारस के पचावली गांव मे तबाही मचाने वाली सिंध नदी का पानी कम होने के बाद किनारे गांव वालो को चांदी के सिक्के मिले है । यह सिक्के सन 1800 ईसवी के महारानी विक्टोरिया के ब्रिटिश शासनकाल के बताए जा रहे हैं। यहां गांव वाले जान जोखिम में डालकर सिक्का के लिए खुदाई कर रहे। जब यह खबर गांव वालो को लगी तो पूरा गांव खुदाई मे जुट गया। फिलहाल अब चांदी के सिक्के मिलने का सिलसिला थम गया है।

सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन पुलिस के हाथ कुछ नही लग सका । जिसके बाद अब पुलिस गाँव मे जाकर जिन लोगों को सिक्के मिले है उन लोगों से पूछताछ कर रही है।बताया जा रहा है कि सिंध मे बाढ़ आने के कारण आसपास की मिट्टी हट गई थी जिसके चलते जमींन मे गडे चांदी के सिक्के मिले। पचावली ग्राम में सिंध नदी के मुहाने पर मिले चांदी के सिक्कों की खबर ने फिलहाल सबको हैरत मैं डाल दिया। ध्यान देने वाली बात है कि 5 साल पहले भी शिवपुरी में 800 साल पुराने पार्श्वनाथ जैन मंदिर के जीर्णोद्धार  की खुदाई के दौरान एक मिट्टी के घड़े में सोने-चांदी के 364 सिक्के मिले थे।

Back to top button