उज्जैन

INDORE : ट्रक से 1 करोड़ 65 लाख का गांजा जब्त, बोरियों में छिपाकर ले जा रहा था तस्कर

उज्जैन.  मध्य प्रदेश के इंदौर एनसीबी पुलिस व तराना पुलिस ने 1 करोड 65 लाख रुपए के 1376 किलो गांजे के साथ दो आरोपी को गिरफ्तार किया है. आरोपी माल वाहक गाड़ी में मुर्गी के दानों के बोरियों के पीछे छिपाकर गांजा की तस्करी कर रहे थे. इसे इंदौर पुलिस ने उज्जैन जिले के तराना से पकड़ा है. आरोपी गांजा को  आंध्र प्रदेश  से उज्जैन लेकर जा रहे थे। पुलिस ने आरोपी से 1376 क्विंटल गांजा, एक मालवाहक वाहन , दो नग मोबाइल, 2000 रुपए नगद जब्त कर  नारकोटिक एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है.

बता दें कि एनसीबी इंदौर को सूचना मिली थी यह ट्रक आंध्रप्रदेश से चलकर छत्तीसगढ़ के रास्ते उज्जैन आ रहा है। इससे पहले ही एनसीबी और पुलिस ने तराना में इसे पकड़ लिया। ट्रक आरजे-17-जीए-6181 को रुकवाकर तलाशी ली। ट्रक में छोटे-छोटे पैकेट रखे थे। सभी को ब्राउन टेप से पैक किया था। इन्हें खोलकर देखा तो गांजा निकला। मौके पर ही उज्जैन निवासी आरोपी शेरू खां और मेहबूब अली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गाजा तस्करों की इस कार्यवाही के बाद तस्करों में हड़कंप मच गया।

नारकोटिक्स सेन्ट्रल ब्यूरो के झोनल हेड अमित घावटे ने बताया कि कार्रवाई में जब्त 1376 किलो गांजे की कीमत 1 करोड़ 65 लाख रुपए है। भारत में अवैध गांजा की खेती नक्सल प्रभावित आंध्र-ओडिशा सीमा क्षेत्रों से मप्र, दिल्ली, मुंबई, राजस्थान, पश्चिम बंगाल सहित पूरे देश में सप्लाय किया जाता है। इस वर्ष एनसीबी, इंदौर द्वारा बड़ी मात्रा में गांजा की यह आठवीं बड़ी कार्यवाही है। पकड़े गए आरोपियों से काफी बारीकी से पूछताछ की जा रही है आने वाले दिनों में उनकी निशानदेही पर कुछ और बड़े खुलासे हो सकते हैं।

Back to top button