देवास

डिप्टी कलेक्टर के घर चोरी! कुछ नहीं मिला तो झल्लाए चोर,लिखा – जब पैसे ही नहीं थे तो लाक नहीं करना था कलेक्टर 


देवासः मध्य प्रदेश के देवास जिले में प्रशासनिक अधिकारियों के घर भी सुरक्षित नहीं है बीती रात डिप्टी कलेक्टर के यहां चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया. लेकिन जब अधिकारी के यहां चोरों को कुछ नहीं मिला तो झल्लाए चोरो ने वहां एक पत्र लिखकर छोड़ दिया। जिस पर लिखा था, “जब पैसे नहीं थे तो लॉक ही नहीं करना था कलेक्टर”। हालाँकि एसडीएम ने कोतवाली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि उनके घर से चोरों ने 30 हजार रुपए नगद, एक अंगूठी, चांदी की पायल और सिक्के चोरी हुई है. फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर अब चोरो की तलाश में जुटी है।

बता दें कि 15 दिनों पहले डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन सिंह गौड़ को खातेगांव का एसडीएम नियुक्त किया गया था. डिप्टी कलेक्टर का सरकारी आवास सांसद निवास के बिल्कुल पास ही है. पिछले 15 दिनों से आवास में ताला लगा हुआ था, इसी दौरान उसमें चोरी की वारदात हो गई. चोरी की वारदात ने पुलिस गश्त पर भी सवाल खड़ा हो रहा है। दरअसल देवास जिले के खातेगांव के एसडीएम त्रिलोचन सिंह गौड़ के सिविल लाइन स्थित सरकारी आवास में आए तो ताला टुटा हुआ था। शुक्रवार को सरकारी आवास में चोरो ने धावा बोला था। संभवतः घर में ज्यादा सामान नहीं मिलने से चोर बौखला गया और एक पत्र SDM के नाम छोड़ गया, जिसमें उसने लिखा, ‘जब पैसे नहीं थे तो लॉक भी नहीं करना था कलेक्टर’।

Back to top button