मंदसौर

सीएम शिवराज बाल-बाल बचे!सुरक्षा में चूक,प्लेन को रनवे पर पड़ा रोकना, नहीं हो सकता था बड़ा हादसा

मंदसौर: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने एक दिवसीय दौरे पर एक कार्यक्रम में शामिल होने मंदसौर पहुंचे थे इस दौरान सीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला सामने आया है. सीएम मंदसौर में बने हेलीपैड में पहुंचने से पहले पायलट को प्लेन को रनवे पर रोकना पड़ा। इस दौरान मुख्यमंत्री को पैदल हेलीपेड तक लाया गया. इस बीच बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता सीएम के स्वागत के लिए एयर स्ट्रिप पहुंच गए जिसके चलते सीएम का सुरक्षा घेरा भी टूट गया। हालांकि सीएम के सुरक्षा में लगे जवान कार्यकर्ताओं को समझाइश देते हुए दूर रहने की हिदायत दी।

बता दें कि सीएम शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर प्लेन से मंदसौर पहुंचे। जहां जिले के 2 स्थानों पर कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए हेलीकॉप्टर के जरिए पहुंचना था जिसके लिए हेलीकॉप्टर के आने से पहले एयर स्ट्रिप पर बने हैंगर के पास हेलीपैड बनाया गया था। सीएम के तय कार्यक्रम के अनुसार प्लेन रनवे पर उतरने के बाद हैंगर के पास बने हेलीपैड की तरफ आ रहा था कि अचानक पायलट ने प्लेन को रोक दिया क्योंकि पायलट को लगा कि रनवे के दोनों तरफ लगे बोर्ड पंखों से टकरा सकता है . ऐसे में प्लेन को पहले ही रोक दिया गया. 

मिली जानकारी के अनुसार रनवे से हेंगर तक आने के रास्ते में संकेतक बोर्ड लगे थे इस बोर्ड का विमान के पंखों से टकराने की संभावना थी. ऐसे में विमान को रोककर सीएम को उतारा गया और जिसके बाद सीएम हेलीपेड की तरफ आए. लेकिन इस दौरान बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता भी रनवे पर पहुंच गए और सीएम को घेर लिया. इस दौरान सीएम शिवराज का सुरक्षा घेरा भी टूट गया । 

सीएम शिवराज का हेलीकॉप्टर जाने के बाद विमान को पायलेट्स बड़ी सावधानी के साथ आगे लाए। प्लेन के टेक ऑफ के समय इन संकेतक बोर्डो को अपने स्थान से हटाकर विमान के पंखों की चौड़ाई को ध्यान में रखते हुए दूर लगाया गया. ताकि प्लेन के पंखों से संकेत बोर्ड ना टकराए हालांकि इस घटना पर जब प्रशासनिक अधिकारियों से सवाल किया गया तो उन्होंने जांच करवाने और से सावधानी बरतने की बात कही है। 

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान रविवार को आधे घंटे के लिए जिले की सुवासरा तहसील के ग्राम गुराड़‍िया प्रताप पहुंचे। वहां गरोठ के पूर्व विधायक चंदरसिंह सिसौदिया की माताजी के निधन पर शोक संवेदना व्‍यक्‍त करने भी पहुंचे। यहां उन्‍होंने पूर्व विधायक स्‍व. नानालाल पाटीदार के निवास पर पहुंचकर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद गांव में हुई श्रद्धांजलि सभा में मुख्‍यमंत्री ने कहा कि सुवासरा बस स्टैंड का नाम स्‍व. नानालाल पाटीदार के नाम पर होगा। वहीं कही जगह देखकर उनकी प्रतिमा भी लगाई जाएगी। 

Back to top button