uncategorizedसतपुरा

सतपुड़ा डैम के सात गेट खोले,नदी में बाढ़ के चलते फिर बंद हुआ चोपना मार्ग,32 गांवों का टूटा संपर्क

बैतूल — मध्य प्रदेश के बैतूल में  रात भर से झमाझम बारिश का दौर जारी है। बारिश के चलते सारणी के सतपुड़ा डैम सारनी के 7 गेट रात में ही खोल दिए गए। सुबह सातों गेटों की ऊंचाई बढ़ाकर 5-5 फ़ीट कर दी गई। फिलहाल सतपुड़ा से करीब 30 हजार क्यूसेक पानी प्रति सेकंड छोड़ा जा रहा है। इससे तवा नदी उफान पर है। तवा नदी के उफान पर होने से घोड़ाडोंगरी- चोपना मार्ग बंद हो गया है। घोड़ाडोंगरी ब्लॉक में 24 घंटे में करीब 2 इंच बारिश दर्ज की है।
32 गांवों का घोड़ाडोंगरी से टूटा संपर्क
तवा नदी के उफान पर होने से सिवनपाठ गांव में रपटे के ऊपर से बाढ़ का पानी जा रहा है। इसके कारण घोड़ाडोंगरी-चोपना बंद हो गया है। इसके चलते 32 गावों का संपर्क घोड़ाडोंगरी से टूट गया है।
जलाशय प्रबंधन ने जारी किया अलर्ट-
जलाशय प्रबंधन द्वारा अलर्ट जारी कर दिया है। इसके बाद से ही स्थानीय पुलिस सुरक्षा में जुट गई है। मूसलाधार बरसात का दौर जारी रहने से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि सीजन में पहली बार 7 से अधिक गेट शुक्रवार को खोले जा सकते हैं। दरअसल पहाड़ी नदियों से जलाशय में तेजी से बाढ़ आ रही है। इससे लेवल बढ़ता ही जा रहा है। जलस्तर बराबर करने गेटों को खोले जा रहे हैं। फिलहाल लेवल 1432 फ़ीट है। जबकि डैम की क्षमता 1433 फ़ीट है। जिस रफ्तार से जलाशय में बाढ़ का पानी आ रहा है। उसे मेंटेन करने लेवल और कम किया जा रहा है। ताकि आपातकाल स्थिति से निपटा जा सके। गौरतलब है कि गुरुवार रात 10 बजे से जोरदार बरसात का दौर जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button