ऑटो

Auto parts industry को लोकलाइजेशन से देश होगा समृद्ध, युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर

Auto parts industry : आयुकावा ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2070 तक शुद्ध शून्य कार्बन उत्सर्जन और 2030 तक 45 प्रतिशत की कमी का लक्ष्य रखा है।” जिसे वे पूरा करने का भरसक प्रयास करेंगे.

 

मुख्य बिंदु –

ऑटो पार्ट्स उद्योग के विकास को सुनिश्चित करने के लिए स्थानीयकरण की आवश्यता है.
उद्योग को गुणवत्ता में सुधार और रखरखाव पर भी ध्यान देना चाहिए.और ऑटो इंडस्ट्री के क्षेत्र में सुधार की भी आवश्यता हैं. जिससे ऑटो सेक्टर के क्षेत्र में विकास किया जा सके सके. और देश को संपन्न देश बनाने का प्रयास किया जा सके. जिससे देश का संभवता के साथ तरक्की के राह पर लाया जा सके.
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 2030 तक कार्बन उत्सर्जन को 45 प्रतिशत तक कम करने का लक्ष्य रखा है. जिसे वे पूरा करने का भरसक प्रयास करेंगे. Auto parts industry

  • ऑटो पार्ट्स उद्योग को स्थानीयकरण की दिशा में कदम बढ़ाने, विनिर्माण गुणवत्ता में सुधार और विकास को बनाए रखने के लिए नई तकनीकों में निवेश करना जारी रखना चाहिए. Auto parts industry
  • तभी देश का विकास संभव हो सकता हैं. मारुति सुजुकी के कार्यकारी अध्यक्ष केनिची आयुकावा ने बुधवार को ऑटो कंपोनेंट मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (एसीएमए) के 62वें वार्षिक सत्र में कहा कि ऑटो पार्ट्स उद्योग के विकास को सुनिश्चित करने के लिए स्थानीयकरण की ख़ास आवश्यक है. उन्होंने कहा, “हमें गहराई तक जाने और कच्चे माल सहित जहां भी संभव हो, यहां तक ​​​​कि सबसे छोटे हिस्सों को स्थानीयकृत करने के तरीके खोजने की जरूरत है, ” उन्होंने कहा कि उद्योग को गुणवत्ता के उच्च मानकों को सुधारने और बनाए रखने की जरूरत है। उस पर भी ध्यान देना चाहिए. तभी देश विकास के ओर अग्रसर होगा. Auto parts industry
  •  कार्बन उत्सर्जन में 45% की कमी

    आयुकावा ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2070 तक शुद्ध शून्य कार्बन उत्सर्जन और 2030 तक 45 प्रतिशत की कमी का लक्ष्य रखा है।” इन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए, उद्योग को शून्य कार्बन उत्सर्जन की हमारी यात्रा पर भविष्य की प्रौद्योगिकियों में प्रयास करना चाहिए और निवेश करना चाहिए। – पिछले स्तर पर लौटें। वहीं त्योहारी सीजन में दोपहिया वाहनों की बिक्री बढ़ने की उम्मीद है। जिससे देश को काफी हद तक फायदा हो सकता हैं. Auto parts industry

  • नीति आयोग के सीईओ ने ईवी पर प्रकाश डाला
  • नीति आयोग के सीईओ परमेश्वरन अय्यर ने बुधवार को कहा कि देश में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने में फंड की भूमिका आने वाले दिनों में अहम होने वाली है। उन्होंने इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) के वित्तपोषण को जोखिम में डालने का भी आह्वान किया। जिससे देश आगे बढाया जा सके और देश का विकास संभव हो. Auto parts industry
  • एक कार्यक्रम में बोलते हुए, अय्यर ने हरित गतिशीलता के महत्व पर प्रकाश डाला और कहा कि यह डीकार्बोनाइजेशन में एक लंबा सफर तय करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि ग्रामीण भारत को इलेक्ट्रिक वाहनों तक अधिक पहुंच की आवश्यकता है, क्योंकि यह तेजी से शहरीकरण कर रहा है। अय्यर छोटे शहरों में भी इलेक्ट्रिक कारों को बढ़ावा देना चाहते थे। Auto parts industry

Save me God : ग्रामीण बोले…भगवान मुझे बचा लो, इस गांव में नहीं है पानी, NCL कोयले के लिए लगातार कर रहा ब्लास्टिंग

Auto parts industry को लोकलाइजेशन से देश होगा समृद्ध, युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर
photo by me

School Holidays October 2022: अक्टूबर में 14 दिन बंद रहेंगे स्कूल, शिक्षकों और बच्चों की रहेगी मौज

Auto parts industry को लोकलाइजेशन से देश होगा समृद्ध, युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर
photo by google

Rewa सांसद व विधायक ने जनसेवा अभियान शिविर में 107 दिव्यांगों को दिया कृत्रिम उपकरण

Auto parts industry को लोकलाइजेशन से देश होगा समृद्ध, युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर
photo by google 

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker