व्यापार

25 हजार रुपए से शुरू करें यह बिजनेस,सरकार देगी 50% सब्सिडी, कमाएं 3 लाख रुपए महीना

आप बहुत कम स्टार्ट अप लागत के साथ अपना घर-आधारित व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। वर्तमान में मोती की खेती, मशरूम,करेला,खाद गोबर से बने प्रोडक्ट समेत अन्य खेती में लोगों का ध्यान तेजी से बढ़ रहा है। कई लोग इसकी खेती कर करोड़पति बन गए हैं।

नई दिल्ली। आजकल लोगों की डिमांड बढ़ती जा रही है, जिसके चलते वे तरह-तरह के बिजनेस आइडियाज की तलाश में हैं। आज हम एक खास बिजनेस आइडिया की भी बात कर रहे हैं। ..आप कल बहुत कम स्टार्ट अप लागत के साथ अपना घर-आधारित व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

सीपों को पहले जाल में बांधकर 10 से 15 दिनों के लिए तालाब में रखा जाता है ताकि वे अपने जैसा वातावरण बना सकें, फिर उन्हें बाहर निकालकर ऑपरेशन किया जाता है। सर्जरी का मतलब है कि सीप के अंदर एक कण या मोल्ड डाला जाता है। इस सांचे में लेप करने के बाद सीपों की एक परत बन जाती है,..जो बाद में मोतियों में बदल जाती है।

वर्तमान में मोती की खेती में लोगों का ध्यान तेजी से बढ़ रहा है। कई लोग इसकी खेती कर करोड़पति बन गए हैं। तो आइए जानें इस व्यवसाय को कैसे शुरू करें, एक तालाब, सीप (जिससे मोती बनते हैं) और प्रशिक्षण, मोती की खेती के लिए इन तीन चीजों की आवश्यकता होती है। आप चाहें तो अपने खर्चे पर तालाब खुदवा सकते हैं या सरकार 50 फीसदी सब्सिडी देती है तो आप भी इसका फायदा उठा सकते हैं. ..सीप भारत के कई राज्यों में पाए जाते हैं।.. हालांकि दक्षिण भारत और बिहार में दरभंगा सीप की गुणवत्ता अच्छी है। इसके प्रशिक्षण के लिए देश में कई संस्थान हैं। मध्य प्रदेश के होशंगाबाद और मुंबई से मोती की खेती का प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

सर्जरी के बाद दूबारा सीपियों का मेडिकल इलाज किया जाता है। इसके बाद इन सीपियों के गोले को एक छोटे से बॉक्स में बंद कर दिया जाता है और तालाब में रस्सी पर लटका दिया जाता है। इस बिंदु पर, हमें हर दिन देखना होगा कि कौन सी सीप जीवित हैं और कौन सी मरी हुई हैं। जो मरता है उसे बाहर लाया जाता है। यह कार्य 15 दिनों तक प्रतिदिन करना है। इस प्रक्रिया में करीब 8 से 10 महीने का समय लगता है। उसके बाद सीपों से मोती निकलने लगते हैं।

एक सीप तैयार करने में 25 से 35 रुपये का खर्च आता है। जहां तैयार करने के बाद एक सीप से दो मोती निकलते हैं और एक मोती कम से कम 120 रुपये में बिकता है. अगर क्वालिटी अच्छी है तो आपको 200 रुपये से भी ज्यादा मिल सकते हैं। एक एकड़ तालाब में 25,000 सीपियां डालने पर करीब 7 लाख रुपए खर्च होते हैं। मान लें कि अगर तैयारी के दौरान कुछ सीप खो जाते हैं, तो भी 50% से अधिक सीप सुरक्षित रूप से बाहर आ जाते हैं। यह आसानी से सालाना 30 लाख रुपये कमा सकता है।

Back to top button