व्यापार

Electric Vehicles in India: E-Car के लिए नितिन गडकरी ने की बड़ी घोषणा,electric वाहन खरीदने वालों की अब बल्ले-बल्ले

Electric Vehicles in India:इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स और FY21 एजीएम के वार्षिक सत्र को संबोधित करते हुए, गडकरी ने कहा, “दो साल के भीतर, इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) की लागत उस स्तर तक आ जाएगी जो उनके पेट्रोल वेरिएंट के बराबर होगी. सुविधाओं के विस्तार के लिए काम कर रहे हैं. गडकरी ने आगे कहा, “हम 2023 तक प्रमुख राजमार्गों पर 600 ईवी चार्जिंग पॉइंट (600 EV Charging Point) स्थापित कर रहे हैं

Electric Vehicles in India: इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicles) खरीदने वालों के लिए खुशखबरी है. क्योंकि अब ये वाहन भी आम आदमी की पहुंच में होंगे. इसके सकेंत सड़क एवं परिवन मंत्री नितिन गडकरी (Union Road Transport and Highways Minister Nitin Gadkari) ने दे दिए हैं. उन्होने कहा कि उनकी इलेक्ट्रिक वाहन कंपनियों (electric vehicle companies) से लगातार बात चल रही है. बहुत जल्द ऐसा होगा जब इलेक्ट्रिक वाहन पेट्रोल वाहनों (petrol vehicles) की ही कीमत में मिलने लग जाएंगे. कुछ इलेक्ट्रिक कंपनियों ने अपना-अपना उत्पादन भी बढ़ा दिया है. बताया जा रहा है कि सरकार भी इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वालों के लिए कुछ छूट का प्रावधान करने वाली है. हालाकि कितनी छूट होगी और किस मद में होगी इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हो सकी है.

इलेक्ट्रिक व पेट्रोल वाहनों की कीमत हो जाएगी बराबर

बता दें कि पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने के बाद भी अधिकतर लोग अभी इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने से कतरा रहे हैं. इसकी मुख्य वजह इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत ज्यादा होना. साथ ही चार्जिंग प्वाइंट भी अभी देश में नहीं लगे हैं. मेरठ में एक सभा को संबोधित करते हुए नितिन गडकरी ने बताया कि 250 स्टार्टअप (250 Startups) व्यवसाय लागत प्रभावी ईवी प्रौद्योगिकी निर्माण में लगे हुए हैं. नई इलेक्ट्रिक कारें (Electric Car) और स्कूटर लगातार लॉन्च हो रहे हैं. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच अब लोग इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicles) खरीदने में काफी रूचि दिखा रहे हैं. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि अगले दो साल में इलेक्ट्रिक और पेट्रोल वाहनों की कीमत एक हो जाएगी. 

यही नहीं इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स और FY21 एजीएम के वार्षिक सत्र को संबोधित करते हुए, गडकरी ने कहा, “दो साल के भीतर, इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) की लागत उस स्तर तक आ जाएगी जो उनके पेट्रोल वेरिएंट के बराबर होगी. सुविधाओं के विस्तार के लिए काम कर रहे हैं. गडकरी ने आगे कहा, “हम 2023 तक प्रमुख राजमार्गों पर 600 ईवी चार्जिंग पॉइंट (600 EV Charging Point) स्थापित कर रहे हैं. सरकार यह भी सुनिश्चित करना चाहती है कि चार्जिंग स्टेशन सौर या पवन ऊर्जा जैसे नवीकरणीय स्रोतों से संचालित हों.

Back to top button