छत्तीसगढ़

Deputy Collector attempt : डिप्टी कलेक्टर बनने की राह हुई आसान, जिले के युवाओं को मिलेगी मुफ्त कोचिंग

Deputy Collector attempt : सहायक आयुक्त आदिवासी उन्नयन कोरबा श्रीमती माया वारियर ने कहा कि गरीब और होनहार बच्चे आर्थिक तंगी के कारण अच्छी जगहों पर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी नहीं कर पा रहे हैं. ऐसे बच्चों का चयन कर उन्हें नि:शुल्क प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयार किया जाएगा।

Deputy Collector attempt : छत्तीसगढ़- प्रतियोगी परीक्षाओं के माध्यम से सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे जिले के युवाओं के लिए सुनहरा मौका है। अब कोरबा जिला प्रशासन द्वारा एक महत्वपूर्ण पहल की जा रही है. प्रशासन अब युवाओं को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए नि:शुल्क कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। कोचिंग में चयनित कोचिंग संस्थान युवाओं को लोक सेवा आयोग, बीएपीएम और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए उपलब्ध कराएंगे। नि:शुल्क कोचिंग के लिए प्रतियोगी को चयन परीक्षा में भाग लेना होगा। इस कोचिंग सेंटर से प्रतिभावान छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करेंगे.

बता दें कि इस कोचिंग सेंटर में चयन परीक्षा के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन शुरू हो गए हैं। आवेदन 12 जनवरी 2022 तक स्वीकार किए जाएंगे। चयन परीक्षा 18 जनवरी को जिले के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर होगी. मुफ्त कोचिंग के लिए ऑनलाइन आवेदन www.educationguru.org पर जमा किए जा सकते हैं। प्रतिभागी करताला, कटघोरा, पाली और पांडियुपोरा प्रखंड शिक्षा अधिकारी सहित लाइवलीहुड कॉलेज आईटीआई रामपुर कोरबा के कार्यालय में ऑफलाइन आवेदन स्वीकार और जमा कर सकते हैं।

सहायक आयुक्त आदिवासी उन्नयन कोरबा श्रीमती माया वारियर ने कहा कि गरीब और होनहार बच्चे आर्थिक तंगी के कारण अच्छी जगहों पर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी नहीं कर पा रहे हैं. ऐसे बच्चों का चयन कर उन्हें नि:शुल्क प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयार किया जाएगा। कोचिंग प्रदान करने के लिए चयनित संस्थान में प्रतियोगी परीक्षा के अनुसार प्रशिक्षित शिक्षक लोक सेवा आयोग, व्यापम आदि की परीक्षा के लिए प्रतिभागियों को तैयार करेंगे. मुफ्त कोचिंग मिलने से जिले के युवा सरकारी नौकरी की तैयारी कर सकेंगे। सहायक आयुक्त ने कोचिंग के लिए आयोजित चयन परीक्षा में जिले के युवाओं की अधिक से अधिक भागीदारी करने का भी अनुरोध किया.

Back to top button