क्राइम

UP: शराबियों ने युवक के प्राइवेट पार्ट में डाली शराब की बोतल, हालत नाजुक,F.I.R दर्ज

हैवानियत की हदें पार कर शराबियों ने एक दिव्यांग दलित युवक के गुप्तांग में शराब की बोतल डाल दी हैं जिसके बाद दिव्यांग की हालत नाजुक हो गई है फिलहाल युवक का इलाज जारी है।

महोबा : हम व्यक्तित्व के ऊपर मूल्यों कम महत्व देते हैं लेकिन जब कोई शराब पीकर कुछ कहे तो उसका कोई मूल्य नहीं होता कहते तो यह भी है कि शराबियों से दूर रहकर ही खुद को बचाया जा सकता है शराबी और कीचड़ एक समान है अब यह दिन से कोई लड़े तो मुसीबत खुद पर ही आएगी कुछ ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के महोबा में देखने को मिला जहां को शराबियों से एक विकलांग को लड़ना भारी पड़ गया।

उत्तर प्रदेश के महोबा में हैवानियत की हदें पार करते हुए शराबियों ने एक दिव्यांग दलित युवक के गुप्तांग में शराब की बोतल डाल दी है. युवक की हालत गंभीर है और उसे महोबा जिला अस्पताल से झांसी रेफर कर दिया गया है। घटना जिले के अजनार थाना क्षेत्र के ग्राम टिकारिया की है. फिलहाल शिकायत के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर अपराधियों की धरपकड़ के लिए अपने मुखबिर को सक्रिय कर दिया है। घटना की खबर लगते ही पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया ।

नशे में धुत अत्याचारियों ने पूरी बोतल युवक के प्राइवेट पार्ट में डाल दी, जिससे उसकी हालत मौत के कगार पर आ गई है. बेहोश युवक को जिला अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया लेकिन गंभीर हालत को देखते हुए उसे झांसी मेडिकल रेफर कर दिया गया है। इस मामले में पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

यह मामला जिले के अजनार थाना क्षेत्र के ग्राम टिकारिया का है. गांव में रहने वाला दलित युवक नदी किनारे शौच करने गया था, जहां कुछ युवक शराब पी रहे थे. युवक दबंग शराबियों से किसी बात को लेकर बहस करने लगा और देखते ही विवाद इतना बढ़ गया कि शराबी दबंगों ने उसके गुप्तांग में शराब की बोतल डाल दी।

इसे बेरहमी से पीटा गया। उसे बेहोश छोड़कर सभी दबंग लोग मौके से भाग गए। जब उसे होश आया तो पीड़ित किसी तरह घर आया , लेकिन प्राइवेट पार्ट के अंदर बोतल होने के कारण उसे असहनीय दर्द हो रहा था। उसने पूरी घटना अपने परिजनों को बताई। इसके बाद उसे इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जैतपुर लाया गया. लेकिन पीड़ित की हालत इतनी गंभीर थी कि उसे झांसी अस्पताल से डॉक्टरों ने तुरंत रेफर कर दिया।

यहां गंभीर हालत को देखते हुए उसे महोबा जिला अस्पताल भेजा गया है। पूरे मामले की सूचना अजनार थाने को दी गई। उसके बढ़ते दर्द और जिला अस्पताल में बिगड़ती हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे झांसी मेडिकल रेफर कर दिया। अजनार थाना प्रभारी राधेश्याम ने बताया कि घटना के आरोपियों की तलाश की जा रही है.

Back to top button