MP News

MP- अतिथि शिक्षकों को इस तरह देगा वेतन, अतिथि शिक्षकों ने इस व्यवस्था का विरोध करना किया शुरू

MP- will give salary to guest teachers like this, guest pundits have started opposing this arrangement.

MP- will give salary to guest teachers like this, भोपाल – मध्य प्रदेश में अतिथि शिक्षक-कर्मचारी (एमपी स्टाफ) के लिए बड़ी खबर है. दरअसल, इंजीनियरिंग और पॉलीटेक्निक कॉलेजों में शिक्षा प्रदान करने वाले अतिथि शिक्षकों को हर महीने 30 हजार न देते हुए हर पीरियड के हिसाब से 400 रूपए दिए जाएंगे.

बता दे कि उच्च शिक्षा विभाग ने जनवरी में अतिथि शिक्षकों को हर माह 30 हजार मानदेय देने का वादा किया था. नए शैक्षणिक वर्ष से इस व्यवस्था को लागू करने का निर्णय लिया गया। लेकिन, अब इसे लेकर एक बार फिर नया आदेश जारी किया गया है. इसके तहत पूर्व के आदेश को अपरिवर्तित रखते हुए पहले से कार्यरत अतिथि शिक्षकों को प्रति माह 400 रुपये वेतन देने का निर्णय लिया गया है. MP

Also Read – Sapna Choudhary ने दिखाया सेक्सी अवतार, कल्लू फैंस की लचक गई कमर

MP- अतिथि शिक्षकों को इस तरह देगा वेतन, अतिथि पंडितों ने इस व्यवस्था का विरोध करना शुरू कर दिया है.
photo by google

हालांकि, नए आदेश में अतिथि शिक्षकों को सबसे बड़ा झटका उनकी आय में 40 फीसदी की कटौती का होगा. प्रतिदिन अधिकतम 12 सौ रुपये का भुगतान किया जा सकता है. अब अतिथि विद्वानों ने इस व्यवस्था का विरोध करना शुरू कर दिया है. इसके साथ ही सोशल मीडिया पर तरह – तरह के कैंपेन शुरू हो गए हैं.

अतिथि शिक्षकों की माने तो विभाग नए शिक्षकों की भर्ती करेगा तो उन्हें 30 हजार रुपये वेतन दिया जाएगा। जहां एक ही सेक्शन में दो अलग-अलग तरीकों से भुगतान किया जाएगा. हालांकि, सभी की योग्यताएं समान हैं। 2018 तक प्रति माह केवल 275 रुपये का भुगतान किया जाता था, लेकिन अब इस व्यवस्था को बढ़ाकर 400 रुपये कर दिया गया है.

नई व्यवस्था से बढ़गी समस्या

MP में अतिथि शिक्षक गोविंद सक्सेना का कहना है कि, पहले विभाग की ओर से अतिथि शिक्षकों को हटाकर नए सिरे से रखना सुनिश्चित था. ऐसे में 10 से 15 साल से पढ़ा रहे अतिथि शिक्षक बाहर हो सकते थे. इसका विरोध होने पर विभाग ने पहले जैसी व्यवस्था को यथावत कर दिया. लेकिन, अतिथि शिक्षकों को फिक्स सैलरी देने के फैसले को बदल दिया. अतिथि शिक्षक सुबोध त्रिपाठी का कहना है कि, 400 रूपए वाली व्यवस्था में कई दिक्कतें हैं. जरूरी नहीं कि, अतिथि शिक्षकों को तीन पीरियड ही मिले. इसके अलावा सरकारी अवकाश का भी पेमेंट भी नहीं होगा. MP

also Read – Rekha इसके नाम की लगाती है सिंदूर ! एक्ट्रेस ने खुद बताई सटीक वजह

MP- अतिथि शिक्षकों को इस तरह देगा वेतन, अतिथि पंडितों ने इस व्यवस्था का विरोध करना शुरू कर दिया है.
photphoto by googlso by google

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker