MP News

School Fees in MP – मध्यप्रदेश में 12 साल बाद शासन ने बढ़ाया 2 गुना स्कूल फीस

School Fees in MP - After 12 years in Madhya Pradesh, the government increased the school fees by 2 times

School Fees in MP : इस वर्ष प्रवेश के समय स्कूली छात्रों को हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी प्रवेश फीस के साथ खेल फीस दोगुना और स्काउट-गाइड फीस का पांच गुना ज्यादा भुगतान करना होगा. करीब 12 साल बाद मध्य प्रदेश सरकार ने फीस में इजाफा किया है.स्कूलों और विभागों में स्थानीय खेल गतिविधियों को आयोजित करने के लिए खेल शुल्क का उपयोग किया जाता है.स्काउट-गाइड का मुख्य मंत्र सेवा है. स्काउट-गाइड में बच्चों और युवाओं का सर्वांगीण विकास होता है. School Fees in MP

सभी विभागीय संयुक्त निदेशकों, जिला शिक्षा अधिकारियों एवं प्राचार्यों को जारी आदेश के अनुसार अब नौवीं और दसवीं कक्षा के छात्रों के लिए खेल शुल्क 60 रुपये के बजाय 120 रुपये और 11वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए 100 रुपये के बजाय 200 रुपये लिए जाएंगे. स्काउट-गाइड फीस नौवीं,10 वीं के विद्यार्थियों से 10 के बजाय 30 और 11वीं 12वीं के विद्यार्थियों से 50 रुपये लिए  जाएंगे. School Fees in MP  

स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से फीस बढ़ाने का प्रस्ताव 2020 में पास हुआ था, जिसे अब वित्त विभाग ने 2022 में मंजूरी दे दी है. क्योंकि इसे कोरोना वेव कहते हैं. जानकारों का कहना है कि सरकार कोरोना संकट के दौरान कोई फीस बढ़ाने के पक्ष में नहीं थी. इस वजह से दो साल के लिए फीस वृद्धि पर रोक लगा दी गई थी. School Fees in MP

डीईओ के निर्देश के बाद भी प्राचार्यों ने नहीं दी फीस

जिला शिक्षा अधिकारी आनंद शर्मा ने तीन सप्ताह पूर्व खेल शुल्क, रेडक्रास व स्काउट योगदान स्कूल प्राचार्य के कार्यालय में जमा करने का आदेश जारी किया था. प्राचार्यों ने आदेश को अवास्तविक बताया. कहा गया कि शुल्क का भुगतान नहीं करने पर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों की संख्या सूची उपलब्ध नहीं होगी. इस आदेश से केवल 25 स्कूल प्रभावित हुए और उन्होंने फीस जमा कर दी। बाकी ने अभी तक शुल्क का भुगतान नहीं किया है. विभाग का कहना है कि बकाया राशि लाखों में है. वसूली के लिए लेखा तैयार किया जा रहा हैं. School Fees in MP

स्काउट – गाइड के मूल मंत्र ही सेवा भाव

स्कूलों और विभागों में स्थानीय खेल गतिविधियों को आयोजित करने के लिए खेल शुल्क का उपयोग किया जाता है.स्काउट-गाइड का मुख्य मंत्र सेवा है. स्काउट-गाइड में बच्चों और युवाओं का सर्वांगीण विकास होता है.

Also Read – Alia Bhatt : ससुराल पहुंची और नीतू कपूर यह कह कर छीन ली तिजोरी की चाबी ?

School Fees in MP - मध्यप्रदेश में 12 साल बाद शासन ने बढ़ाया 2 गुना स्कूल फीस
photo by google

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker