MP News

Singrauli निकाय चुनाव में दिग्गजों ने झोंकी पूरी ताकत, इस बार होगा त्रिकोणीय मुकाबला

In Singrauli civic elections, veterans threw their full force, this time there will be a triangular contest

In Singrauli civic elections – सिंगरौली (Singrauli) – नगर निगम चुनाव में नामांकन प्रक्रिया के आखिरी दिन दो और नए प्रत्याशियों ने पर्चा भरा साथ ही भाजपा प्रत्याशी ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर दूसरी परत जमा की इस तरह से महापौर पद के लिए कुल 12 प्रत्याशियों ने नामांकन कराया है महापौर के चुनाव को लेकर माना जा रहा है कि अब इस बार त्रिकोणीय मुकाबला होगा. Singrauli

नगरी निकाय चुनाव पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला होते हुए नजर आ रहा है. इस रोमांचक त्रिकोणीय मुकाबले में देखना होगा कि जनता किसे जीत की टोपी पहनाती है.तो वहीं इस बार कांग्रेस प्रत्याशी अरविंद सिंह चंदेल की राजनीतिक करियर का आखिरी दांव माना जा रहा है.

Also Read – पिता के इन दो शर्तो के कारण 47 साल की Ekta Kapoor ने आज तक नही की शादी,पढिये वजह ;

Singrauli निकाय चुनाव में दिग्गजों ने झोंकी पूरी ताकत, इस बार होगा त्रिकोणीय मुकाबला
photo by google

नगरी निकाय सीट पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला होता नजर आ रहा है एक ओर शहर अध्यक्ष व पूर्व नेता प्रतिपक्ष के सबसे करीबी माने जा रहे अरविंद सिंह चंदेल को कांग्रेस चुनाव मैदान में उतरी है तो वहीं दूसरी ओर लोगों के बीच लंबे समय से सक्रिय रहे और नगर निगम के निवर्तमान अध्यक्ष चंद्र प्रताप विश्वकर्मा भाजपा चुनाव मैदान में उतरी है. लेकिन भाजपा और कांग्रेस को चुनौती देने के लिए एक बार फिर आम आदमी पार्टी के विधानसभा प्रत्याशी रानी अग्रवाल अपनी किश्मत आजमा रहे हैं. इस सीट पर तीनो ही दावेदार अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं. हर कोई एक दूसरे पर भारी पड़ता नजर आ रहा है. Singrauli

तीनों उम्मीदवार झोंक रहे हैं पूरी ताकत

भाजपा प्रत्याशी चंद्र प्रताप विश्वकर्मा की बात करें तो वह नगर पालिक निगम के निवर्तमान अध्यक्ष है जबकि आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी रानी अग्रवाल जिला पंचायत सदस्य रह चुकी हैं रानी अग्रवाल लोगों के दिलों में राज करने वाली महिला नेता है वही कांग्रेसी नेता अरविंद सिंह चंदेल विधानसभा चुनाव में कांग्रेश से बगावत करते हुए चुनाव लड़ा था जिसमें उन करारी हार हुई थी कांग्रेस की हार कि प्रमुख वजह अरविंद को ही माना जाता है हालात यह है कि अब कांग्रेश के कई बड़े नेता पार्टी छोड़कर इन्हें हराने का चक्रव्यू तैयार कर रहे हैं तो वहीं कुछ कांग्रेसमें रहकर ही नहीं ब्लैक होल में धकेलने का षड्यंत्र रच रहे हैं. Singrauli

अरविंद को बाहर से कम भीतर से ज्यादा चुनौती

बताया जा रहा है कि कांग्रेस प्रत्याशी अरविंद सिंह चंदेल को विधानसभा चुनाव में बगावत करना अब भारी पड़ रहा है उन्हें बाहर से कम और पार्टी के भीतर से ज्यादा चुनौती का सामना करना पड़ रहा है हालांकि कांग्रेसी डैमेज कंट्रोल में लगी है लेकिन सफल कितना होते हैं यह आने वाला वक्त ही बता सकता है फिलहाल अरविंद सिंह नगर निगम क्षेत्र के वार्डो में जाकर लोगों से अपने पक्ष में मतदान करने के लिए हाथ जोड़ रहे हैं अब देखना होगा कि लोग श्री चंदेल को कितना पसंद करते हैं. Singrauli

चंद्र प्रताप को पार्टी के भीतर से चुनौती

भाजपा प्रत्याशी चंद्र प्रताप विश्वकर्मा राजनीति में अच्छी दखलअंदाजी रखने वाले नेताओं में पहचाने जाते हैं लोगों के बीच उनकी अच्छी पहचान है साफ छवि समाजसेवी व्यक्तित्व से पहचाने जाने वाले चंद्र प्रताप विश्वकर्मा अब अपने पूरे जोश के साथ मैदान में हैं लोग उन्हें प्यार से चंदे भैया भी कहते हैं लेकिन चंद्र प्रताप पर आरोप है कि वह सामान्य सीट पर चुनाव लड़कर सामान्य वर्ग के मतदाताओं को नाराज कर दिया है वहीं दूसरी तरफ साहू समाज इस बात से नाराज है कि उनके जनसंख्या ज्यादा है उसके बाद भी टिकट साहू समाज में नहीं दिया गया. Singrauli

Also Read – Ranbir Kapoor-Alia Bhatt का हो जायेगा तलाक ? इस शख्स ने किया दावा, पढ़िये पूरी खबर

Singrauli निकाय चुनाव में दिग्गजों ने झोंकी पूरी ताकत, इस बार होगा त्रिकोणीय मुकाबला
photo by google

रानी अग्रवाल ने चंदे और चंदेल की बढ़ा दी धड़कने

इन दोनों उम्मीदवारों के अलावा इस मुकाबले की दौड़ में आम आदमी पार्टी प्रत्याशी रानी अग्रवाल को भी कम नही माना जा सकता. वह कांग्रेस-भाजपा दोनों से ही नाराज चल रहे लोगों के दिलो बहुत कम समय मे अपनी पहचान बनाने में कामयाब होती नजर आ रहे हैं. ऐसे में नहीं कहा जा सकता की नगर निगम का वोटर किसका साथ देगा सभी अपनी अपनी पार्टी के लुभावने वायदों को लेकर लोगो के बीच जाकर वोटर को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं. Singrauli

लोगों ने अच्छा समर्थन दिया है

नगर निगम सीट पर होते त्रिकोणीय मुकाबले को लेकर यहां कम मतदाता काफी उत्साहित है गली चौराहों पर चर्चा है कि यहां आम आदमी-भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है. जबकि कांग्रेस और बहुजन को तीसरे दौड़ पर मान रहे हैं लेकिन बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी वंशरूप साह की दावेदारी के बाद यह मुकाबला चतुष्कोणीय बनता नजर आ रहा है. अब देखने वाली बात होगी. Singrauli

कोई नहीं है टक्कर में

आम आदमी पार्टी प्रत्याशी रानी अग्रवाल भी अपनी जीत का दावा पक्का कर रही हैं. उनका कहना है कि उनकी टक्कर में अभी कोई नजर नहीं आ रहा है और यह भी कह रही हैं कि उन्हें खुद को यह आकलन नहीं कि इस बार जनता का इतना समर्थकों ने कैसे मिल रहा है. जनता से मिल मिल रहा समर्थन ही उनकी जीत पक्की कर रहा है. उन्होंने कहा कि लंबे समय से भाजपा कांग्रेस के भ्रष्टाचार को देखकर लोग त्रस्त है अब वह दिल्ली के तर्ज पर शहर का विकास देखना और भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करना चाहते हैं. Singrauli

Also Read – Abhishek की वजह से Aishwarya Rai की अधूरी ख्वाहिशें ? टूटते तारों को देख मांगी दुआ !

Singrauli निकाय चुनाव में दिग्गजों ने झोंकी पूरी ताकत, इस बार होगा त्रिकोणीय मुकाबला
photo by google

Back to top button