MP News

Singrauli जिले के 27 गांव में छाया अंधेरा, लालटेन के सहारे गुजार रही रातें, यह रही बड़ी वजह

Singrauli सिंगरौली – मध्य प्रदेश का सिंगरौली जिला बिजली उत्पादन को लेकर न केवल प्रदेश में बल्कि देश में भी अपनी एक अलग पहचान बना चुका है लेकिन अब बकाया बिल होने के चलते सिंगरौली जिले के करीब 27 गांव की बिजली सप्लाई बंद कर दी गई है.

Singrauli अब गांव के लोग लालटेन के सहारे रात गुजार रहे हैंबता दें कि बिजली बिल बकाया होने के कारण कई गांवों के ट्रांसफार्मरों को पंचायत चुनाव के चलते भले ठीक कर दिए गए या फिर बदल दिए गए हैं लेकिन अभी भी 27 गांवों की बिजली सप्लाई चुनाव होने के बाद बंद कर दी गई है. Singrauli 
यहां के जले ट्रांसफार्मर को बदलने के लिए बिजली विभाग ने बकाया राशि पहले जमा कराने की शर्त लगा रखी थी लेकिन ग्रामीणों ने इस शर्त को दरकिनार कर मनमाने तरीके से बिजली का उपयोग कर रहे थे.Singrauli
Singrauli जिले के 27 गांव में छाया अंधेरा, लालटेन के सहारे गुजार रही, रातें यह रही बड़ी वजह
photo by google
मिली जानकारी के अनुसार – ग्रामीण क्षेत्र में 25 63 व 100 केवीए करीब 5800 ट्रांसफर लगाए गए हैं.लेकिन ट्रांसफर के जरिए बिजली जलाने वाले उपभोक्ता मनमाने तरीके से बिजली जला रहे थे लेकिन बिल नहीं जमा कर रहे थे पूरे जिले का औसत बिजली बिल राशि की वसूली महज 20% ही हो पा रही है शेष 80% बिल जमा ना होने से यह समस्या खड़ी हो गई है. Singrauli

बिजली बिल नहीं जमा हो जाने के कारण बिजली विभाग ने जिन गांवों में सबसे ज्यादा बिल बकाया है वहां का ट्रांसफार्मर जलने के बाद बदला नहीं जाता लेकिन पंचायत चुनाव से पहले कई गांवों को बिजली सप्लाई रोक दी गई थी लेकिन चुनाव को लेकर तमाम सिफारिशें आने के कारण नए ट्रांसफर लगा दिए गए फिर भी 27 ट्रांसफार्मर अभी भी नहीं ठीक किए गए.Singrauli

बकाया राशि वसूलने की शुरू हुई कवायद
बताया जाता है कि मतगणना समाप्त होने के बाद बिजली विभाग राजस्व वसूली की कार्यवाही में तेजी ला सकता है इसके लिए विभाग ने बकायदा रणनीति भी बना ली है और कई टीमें क्षेत्रवार के हिसाब से जिम्मेदारी भी गांव की जा चुकी है बिजली कनेक्शन काटने का काम पहले उन गांवों से शुरू होगा जहां की बिजली उपभोक्ताओं का बिजली बिल ज्यादा बकाया है. Singrauli
Singrauli जिले के 27 गांव में छाया अंधेरा, लालटेन के सहारे गुजार रही, रातें यह रही बड़ी वजह
photo by google
बरसात में जमकर हलाकान कर रही बिजली
बरसात के चलते जहां एक तरफ बिजली विभाग से ही आपूर्ति रोक दी जा रही है तो वही एक 11kv लाइनों में लगातार फाल्ट आने के कारण गांवों की सप्लाई बाधित होती है इस समय सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में माना खमरिया कछुआ गड़ईगांव, देवसर शामिल है जहां के लाइनों के तार घटिया क्वालिटी होने के कारण जर्जर हो चुके हैं क्योंकि इन लाइनों पर सप्लाई का दबाव भी ज्यादा है इसलिए जरा सी स्पार्किंग होने पर बिजली सप्लाई ठप हो जाती है. Singrauli
मुसीबत उन्हें जिन्होंने बिजली का बिल जमा कर दिया
जिन गांवों में बिजली करीब 80% बकाया है वहां विभाग ने सप्लाई पूरी तरह से रोक दिया है या फिर जले हुए ट्रांसफार्मर को नहीं बना रही है लेकिन इन ट्रांसफर में ऐसे घरों की भी बिजली सप्लाई है जहां 100% बिजली बिल जमा हो चुका है.Singrauli
Singrauli जिले के 27 गांव में छाया अंधेरा, लालटेन के सहारे गुजार रही, रातें यह रही बड़ी वजह
photo by google

Back to top button