MP News

MP – खंडवा में जन्मा 4 हाथ,4 पैर और 4 कान वाला बच्चा,ग्वालियर का बदनाम बदनापुरा से 6 नाबालिग बच्चियां बरामद,शाजापुर  – मुस्लिम युवक ने दुर्गा प्रतिमा स्थापित की

snn

MP -मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के मूदी हॉस्पिटल में 4 हाथ,4 पैर और 4 कान वाले बच्चें का जन्म हुआ है.इस बच्‍चे के पैदा होने के बाद लोग इसे ‘प्रकृति का चमत्‍कार’ कह रहे हैं. वहीं कुछ लोगों ने तो बच्‍चे की तुलना ‘भगवान के पुर्नजन्‍म’ से कर डाली तो किसी ने इसे अपशगुन बताया हालांकि जन्म के कुछ घंटों बाद नवजात की मौत हो गईMP –

हालांकि, डॉक्टर का स्पष्ट कहना है कि यह जुड़वां बच्चे के जन्म का मामला है, लेकिन दूसरे बच्चे का शरीर सही से डेवलप नहीं हो पाया, इसकी वजह से एक बच्चे के अतिरिक्त हाथ और पैर हो गए.नवजात शिशु का जन्‍म मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में हुआ.MP –

बता दें कि खंडवा जिले में मूंदी के सरकारी हॉस्पिटल में इस बच्चे का जन्म हुआ.मुंदी के थर्मल पावर प्लांट से लगे गांव शिवरिया की रहने वाली एक महिला ने एक विचित्र बच्चे को जन्म दिया । हालांकि बच्चा मात्र आधा घंटा जीवित रहा परंतु उस बच्चे को देखने के लिए लोगों की भीड़ लग गई ।  इस घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का दौर जारी है.MP –

MP –  ग्वालियर का बदनाम बदनापुरा से 6 नाबालिग बच्चियां बरामद

MP - खंडवा में जन्मा 4 हाथ,4 पैर और 4 कान वाला बच्चा,ग्वालियर का बदनाम बदनापुरा से 6 नाबालिग बच्चियां बरामद,शाजापुर  - मुस्लिम युवक ने दुर्गा प्रतिमा स्थापित की
photo by google
ग्वालियर के बदनाम बदनापुरा में लड़कियों की खरीद-फरोख्त मामले में एक और चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। दलाल पुलिस से बचने के लिए लड़कियों का फर्जी आईडी कार्ड बनवाते थे. यह सर्टिफिकेट 500 रुपए में बहोड़ापुर के आनंद नगर में चलने वाले एक कियोस्क सेंटर में बनाए जाते थे। पुलिस ने कियोस्क सेंटर पर दबिश दी तो 50 जाली डॉक्यूमेंट मिले हैं। इनमें से 5 बदनापुरा के हैं। यहां से कुछ युवक-युवतियों को पूछताछ के लिए थाने पर बिठाया गया है।MP
मुरैना-ग्वालियर बॉर्डर पर शहर के पुरानी छावनी इलाके में आने वाला बदनापुरा गांव मानव तस्करी और देह व्यापार के लिए बदनाम रहा है। यहां पर बड़ी संख्या में लड़कियों को खरीदा हुआ बेचा जाता है। जब भी गांव में पुलिस एंट्री करती है तो गांव के लोगों के कड़े विरोध का सामना करना पड़ता है। रविवार को ग्वालियर पुलिस ने एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग एक्शन के तहत “ऑपरेशन शक्ति’ चलाकर बदनापुरा में अब तक का सबसे बड़ा सर्च ऑपरेशन चलाया था।MP
MP - खंडवा में जन्मा 4 हाथ,4 पैर और 4 कान वाला बच्चा,ग्वालियर का बदनाम बदनापुरा से 6 नाबालिग बच्चियां बरामद,शाजापुर  - मुस्लिम युवक ने दुर्गा प्रतिमा स्थापित की
chaapa
बता दें की करीब 150 पुलिस जवानों व अफसरों के साथ पुलिस, क्राइम ब्रांच व लाइन से फोर्स लेकर पुलिस अफसरों ने बदनापुरा के रेड लाइट एरिया को चारों तरफ से घेर लिया। पुलिस की किलेबंदी देख गांव में हड़कंप मच गया।विरोध करने की सोच रहे गांव के लोग पुलिस फोर्स को देख सहम गए।  पुलिस ने एक-एक घर में तलाशी तो बदनापुरा के 5 घरों से पुलिस ने 6 नाबलिग बच्चियों को बरामद किया था, जिनकी उम्र 10 से 16 वर्ष है। इसके साथ ही दो युवकों को भी गिरफ्तार किया था।MP
पुलिस के इस दावे के दौरान एक युवक भागने में सफल हो गया. जबकि पकड़ी गई तीन लड़कियों से संबंधित दस्तावेज गांव के लोगों ने दिखा दिए हैं। पर तीन के दस्तावेज न मिलने पर पुलिस ने उनको CWC (बाल कल्याण समिति) के सामने पेश कर बालिका आवास गृह में सुरक्षित पहुंचा दिया था। पुलिस ने जब बदनापुरा-रेशमपुरा में छापा मारी तो यहां से हर घर से कुछ जाली दस्तावेज पुलिस को मिले थे। इनमें जन्म प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, वोटर कार्ड व आधार कार्ड सहित कई दस्तावेज थे। MP
मिली जानकारी के अनुसार जांच के दौरान पुलिस को जानकारी लगी है कि बदनापुरा के ज्यादातर लोग आनंद नगर में एक कियोस्क सेंटर से डॉक्यूमेंट बनवाते हैं। पुलिस ने सेंटर पर दबिश देकर सोनू खान और प्रेरणा को दो हिरासत में लिया। इनके पास से 50 संदिग्ध व जाली दस्तावेज मिले हैं। इनमें से पांच डॉक्यूमेंट बदनापुरा के थे। पुलिस ने इन दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर किया है।MP
कियोस्क सेंटर के कर्मचारियों से पता लगा है कि वह एक जाली दस्तावेज को बनाने के बदले 500 रुपए लेते थे। उनके पास मशीन थी, जिस पर पूरा प्रारूप सेट था। बस उनको जानकारी डालकर उसका प्रिंट देना होता था। MP

दो को हिरासत में लिया

डीएसपी क्राइम ऋषिकेश मीणा ने बताया कि नाबालिग बच्चियों के फर्जी दस्तावेज तैयार करने वाली गैंग के एक महिला पुरुष को हिरासत में लिया है। यह लोग कियोस्क सेंटर चलाने की आड़ में लड़कियों का फर्जी दस्तावेज तैयार करते थे। इस गैंग से मिले फर्जी दस्तावेजों को पुलिस ने जांच के लिए भेजा है। पकड़े गए एक युवक-युवती से पूछताछ की जा रही है।MP

MP  शाजापुर  – मुस्लिम युवक ने दुर्गा प्रतिमा स्थापित कर हिन्दू मुस्लिम एकता की पेश की मिसाल

MP - खंडवा में जन्मा 4 हाथ,4 पैर और 4 कान वाला बच्चा,ग्वालियर का बदनाम बदनापुरा से 6 नाबालिग बच्चियां बरामद,शाजापुर  - मुस्लिम युवक ने दुर्गा प्रतिमा स्थापित की
mishaal
नवरात्रि –  राजनीति में हिंदू मुस्लिम या फिर यूं कहें कि जातिवाद हमेशा हावी रहा है पार्टी अभी जांच के आधार पर टिकट देती है इस बीच एक शख्स ने हिंदू मुस्लिम जमुनी तहजीब पेश की है शख्स ने अपने पैसे मां दुर्गा से नवरात्रि के दिनों में मां दुर्गा प्रतिमा स्थापित कर हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल कायम की है.MP
मतलब हिंदू धर्म में  मां दुर्गा की आराधना का पर्व। नवरात्रि का खासा महत्व है और बहुत ही उल्लास से इस पर्व को मनाया जाता है लेकिन शाजापुर जिला मुख्यालय से महज 10 किलोमीटर दूर ग्राम नैनावद में एक मुस्लिम युवक ने दुर्गा प्रतिमा स्थापित कर हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल कायम की है। इस युवक ने स्वयं के खर्च पर दुर्गा पांडाल बनाया जो समाज में भाईचारे और सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल पेश कर रहा है.MP
ग्राम नैनावद के आबिद भाई ने एक लाख रुपए से ज्यादा की राशि खर्च कर दुर्गा प्रतिमा स्थापित की और भव्य पांडाल बनवाया। इस पांडाल में प्रतिदिन आरती और गरबे का आयोजन हो रहा है। आबिद भाई नवरात्रि में मां की आराधना में लगे हुए हैं। नंगे पैर रहकर व्रत कर रहे हैं। दोनों समय विधि विधान से पूजन अर्चना भी कर रहे हैं।MP
यहां धर्म के बंधनों से परे हिंदू मुस्लिम सभी नवरात्रि के पर्व को उल्लासपूर्ण ढंग से मना रहे। इस क्षेत्र के हिंदुओं की दीवाली कभी मुस्लिमों के बिना नहीं मनाई जाती और मुस्लिमों की ईद भी हिंदुओं के बिना अधूरी रहती है, इस समय देश में हिंदू-मुस्लिम का जो जहर लोगों के दिमाग में बोया जा रहा है, उसका एक अंश भी फिलहाल इस नवरात्रि में यहां नहीं दिख रहा। MP
ग्राम के सरपंच प्रतिनिधि चंदरसिंह देवड़ा ने बताया आबिद भाई के खर्च पर यहां नवरात्रि धूमधाम से मनाई जा रही है,वे स्वयं विधि विधान से मां की पूजा अर्चना कर रहे हैं। सभी लोग यहां इकट्ठा होकर मां की आराधना कर रहे हैं.MP

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker