MP News

CM : सीएम का घोषणा सीधी में बेअसर, महंगे दाम पर मिल रहा रेत, जिला प्रशासन सहित जनप्रतिनिधियों पर खड़े हो रहे सवाल

snn

CM : सीधी 15 सितम्बर –सीधी जिले में सीएम शिवराज सिंह की घोषणाएं बेअसर साबित हो रही हैं जी हां सीधी जिले में रेप की कीमतों 2 गुना का इजाफा तक हो गया है लेकिन रेत के बढ़ते कीमतों को लेकर ना तो प्रशासनिक अधिकारी ने कोई बड़ा एक्शन लिया और ना ही कोई बड़ा जनप्रतिनिधि हालात ये हैं कि रेत कारोबारी मनमाने रेट पर रेत बेच रहे हैं.

पिछले वर्ष 4 अक्टूबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जिले के चितरंगी ब्लाक मुख्यालय में पहुंच आमसभा को संबोधित करते हुए आश्वस्त किया था कि ग्राम पंचायतों में प्रधानमंत्री आवासों के निर्माण कार्य के लिए सस्ते दर पर रेत उपलब्ध करायी जायेगी। लेकिन मुख्यमंत्री के घोषणा करीब 11 महीने बाद भी रेत सस्ती नहीं  हुई बल्कि पहले की तुलना में कई गुना दाम बढ़ गया है। जिसके चलते प्रधानमंत्री आवास के निर्माण कार्य में तरह-तरह की अड़चने सामने खड़ी हो रही है. CM
दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पिछले वर्ष 4 अक्टूबर को चितरंगी में एक बड़ी विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मांग पर घोषणा किये थे कि पंचायतों में मंजूर प्रधानमंत्री आवास निर्माण कार्य के लिए सस्ते से सस्ते दर पर रेत उपलब्ध कराया जायेगा इसके लिए नीति बनायी जा रही है। मुख्यमंत्री के इस घोषणा के बाद पीएम आवास के हितग्राहियों व पंचायत के पदाधिकारियों में एक आशा की किरण जगी थी, किन्तु मुख्यमंत्री के उक्त घोषणा के करीब 10 महीने बाद भी रेत सस्ते दाम पर नहीं मिल रही है,बल्कि इन दिनों रेत के दाम कई गुना बढ़ गया है। CM
बताया जा रहा है कि चुरहट ब्लॉक के ग्राम पंचायतों में रेत के कमी की वजह से पीएम आवास निर्माण कार्य प्रभावित हो रहा है। जबकि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना है। ऐसे में यहां के सरपंचों ने कलेक्टर का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मांग किया है कि ग्राम पंचायतों में रेत की समुचित व्यवस्था करायी जाय। CM

Singrauli सीईटीआई जूनियर हास्टल में एमटी माइनिंग अधिकारी फांसी के फंदे पर झूला

सीएम का घोषणा सीधी में बेअसर, महंगे दाम पर मिल रहा रेत, जिला प्रशासन सहित जनप्रतिनिधियों पर खड़े हो रहे सवाल
photo by google

Singrauli : सिंगरौली 15 सितम्बर. मोरवा थाना क्षेत्र के सीईटीआई जूनियर हॉस्टल उस वक्त हड़कंप मच गया जब एनसीआर में पदस्थ एक नवयुवक एमपी माइनिंग अधिकारी अज्ञात कारणों से फांसी के फंदे में लटक कर खुदकुशी कर ली. CM

Singrauli : घटनास्थल से पुलिस को कुछ खास जानकारी नहीं लगी है लेकिन कहा जा रहा है कि मोबाइल डिटेल के बाद ही इस पूरे मामले के तह तक पहुंचा जा सकता है. CM

सीईटीआई जूनियर हास्टल नंबर 32 में रहने वाले एनसीएल एक नवयुवक एमटी माइनिंग अधिकारी अज्ञात कारणों से फांसी के फंदे पर झूल अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। जबकि युवक ने अभी हाल ही में अगस्त महीने में ज्वाइनिंग किया था। CM
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार की सुबह तकरीबन 9 बजे प्रवीण कुमार राय पिता प्रकाश कुमार राय उम्र 32 वर्ष उप निरीक्षक सिक्योरिटी एनसीएल मुख्यालय सिंगरौली ने फोन के माध्यम से मोरवा पुलिस को सूचना दिया कि आईसीएच के कर्मचारी का फोन आया था. CM
कि सीईटीआई जूनियर हास्टल रूम नं.32 में रहने वाले अमित कुमार सोरेन पिता सुबोध सोरेन उम्र 25 वर्ष मूल निवासी जाबरदहा थाना बिन्दापाथर, जिला गेरिया प्रांत झारखण्ड एवं वर्तमान में एनसीएल में बतौर एमटी माइनिंग के पद पर कार्यरत था। CM
अमित का दरवाजा सुबह 9 बजे खटखटाने के बाद भी नहीं खुला। इसकी सूचना पुलिस को दी गयी। जहां मौके से पहुंच पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो वहां का नजारा देख हतप्रभ रह गयी। CM
पुलिस सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार पाया कि अमित बेड पर चढ़कर छत में लगे सीलिंग फैन में गमछे से फांसी लगाकर लटक रहा था। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर इसकी सूचना मृतक के परिजनों को दिया है और शव को मर्चुरी में रखा दिया गया है। फिलहाल नवयुवक एनसीएल कर्मी फांसी के फंदे पर क्यों झूला कारण अज्ञात है। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की विवेचना में जुट गयी है। CM
अमित पिछले माह किया था ज्वाइनिंग
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अमित अपने घर में इकलौता पुत्र था। जिसकी मॉ गांव में रहती थी। अमित हाल ही में अगस्त महीने में एनसीएल सिंगरौली में बतौर एमटी माइनिंग अधिकारी के पद पर अपनी ज्वाइनिंग दी थी। जहां करीब एक महीने बाद ही अज्ञात कारणों से अमित ने यह कदम उठा लिया है। हालांकि पुलिस घटना के कारणों के पतासाजी में जुट गयी है. CM

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker