MP News

Diwali के पहले कर्मचारियों को बड़ी खुशखबरी, एरियर के साथ सैलरी मिलेगी एडवांस में!

snn

Diwali : भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार के कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर. दिवाली से पहले लक्ष्मी घर आने वाली है. मध्य प्रदेश सरकार ने अक्टूबर माह में 38 प्रतिशत डीए के साथ अग्रिम वेतन देने का निर्णय लिया है. इसके अलावा 3 महीने का एरियर भी दिया जाएगा.

Diwali : दिवाली से पहले सरकारी खजाने से श्रमिकों के वेतन खातों में 412 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए जाएंगे. अक्टूबर माह का सरकारी कर्मचारियों का जो वेतन नवंबर में मिलना था, उसका भुगतान दिवाली से पहले कर दिया जाएगा. नोट शीट वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने लिखी थी. उल्लेखनीय है कि दिवाली से पहले मध्य प्रदेश में 32 कर्मचारी संघों ने नई महंगाई दर के साथ अग्रिम वेतन और बकाया राशि की मांग की थी.

 

 

सरकारी ट्रेजरी सूत्रों के अनुसार, कर्मचारियों का वेतन 20 अक्टूबर के बाद जारी किया जा सकता है. एक अनुमान के मुताबिक अगर ऐसा होता है तो मध्य प्रदेश में चतुर्थ श्रेणी के एक कर्मचारी को करीब 2500 रुपये अतिरिक्त मिलेंगे और अधिकारी को पिछले महीने के वेतन के अलावा करीब 45000 रुपये मिलेंगे. Diwali

 

Singrauli News : नेता प्रतिपक्ष को लेकर कांग्रेस में मचा घमासान, कांग्रेस पार्षदों ने प्रदेशाध्यक्ष को लिखकर जताया विरोध

Diwali के पहले कर्मचारियों को बड़ी खुशखबरी, एरियर के साथ सैलरी मिलेगी एडवांस में!
photo by google

Singrauli News : सिंगरौली 15 अक्टूबर। नगर पालिक निगम सिंगरौली में नेता प्रतिपक्ष एवं उप नेता तथा सचेतक की नियुक्ति को लेकर कांग्रेस पार्टी में द्वंद शुरू हो गया है. करीब आधा दर्जन से अधिक पार्षदों के हस्ताक्षर का एक पत्र इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है. कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ के नाम यह पत्र लिखकर कांग्रेस पार्टी में हड़कम्प मचा दिया है.

Singrauli News : दरअसल पिछले माह के अंतिम सप्ताह में नगर पालिक निगम सिंगरौली में कांग्रेस पार्टी ने पार्षद बंतो कौर को नेता प्रतिपक्ष, प्रेम सागर मिश्रा को उप नेता एवं राम गोपाल पाल को सचेतक नियुक्त किया था। इस नियुक्ति के बाद कांग्रेस पार्टी में ही घमासान मचा हुआ है. Diwali

सूत्र बताते हैं कि कांग्रेस पार्टी के 12 पार्षदों में करीब 9-10 पार्षदों ने प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ को पत्र लिखा है। पत्र में उल्लेख है कि ननि में पार्षदगण रायशुमारी करते हुए पार्षद दल के नेता के रूप में रहे वार्ड क्र.45 से दो बार निर्वाचित पार्षद रामगोपाल पाल को बनाने पर सहमति देते हुए कहा है कि रामगोपाल पाल ओबीसी वर्ग से आते हैं. Diwali
पार्टी के हित में उन्हें ही बनाया जाना चाहिए। जिसका समर्थन करीब 9 पार्षदों ने दिया है। हालांकि नेता प्रतिपक्ष सदन में जिस दल के सर्वाधिक पार्षद चुने जाते हैं उन्हीं दल से नेता प्रतिपक्ष चुने जाने का प्रावधान है. Diwali
नगर पालिक निगम सिंगरौली में आम आदमी पार्टी की मेयर निर्वाचित हुई हैं। इस लिहाज से सबसे बड़े दल के रूप में भाजपा का नेता प्रतिपक्ष चुने जा सकते हैं। कांग्रेस पार्टी ने ननि का पार्षद दल का नेता प्रतिपक्ष कैसे चुन लिया इस बात को लेकर भी इन दिनों चर्चाओं का बाजार गर्म है. Diwali

यह भी पढ़े —

model made 1 billion bikini : इस मॉडल ने 1470000000 की बिकिनी व 25 करोड़ की पहनी ब्रा , देखकर खुली रह जाएंगी आंखें

यह भी पढ़े —

Deepawali से पहले सस्ता होगा गैस सिलेंडर, मोदी सरकार ने बनाया ये बड़ा प्लान!

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker