MP News

MP Transfer : मध्यप्रदेश में तबादला उद्योग शुरू! उद्योग विभाग में महा प्रबंधक, प्रबंधक और सहायक प्रबंधकों के तबादले, देखें लिस्ट

snn

MP Transfer : मध्य प्रदेश में 17 सितंबर से तबादलों का सीजन शुरू हो गया है. हालांकि सभी तबादले प्रशासकीय आधार पर स्वयं के व्यय पर किये गए हैं.

MP Transfer : भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राज्य सरकार ने फिलहाल तबादलों से प्रतिबंध हटा दिया है. जिसके बाद अब मप्र में तबादलों (MP Transfer) का दौर जारी है,कांग्रेस आरोप लगाती हैं की शिवराज सरकार ने एक बार फिर तबादला उद्योग शुरु हो गया हैं.

अब राज्य शासन ने उद्योग विभाग के अधिकारियों के तबादला आदेश जारी किया है। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग (MP MSME Department) द्वारा जारी किये गए तबादला आदेश में तीन महा प्रबंधक , दो प्रबंधक और एक  सहायक प्रबंधक का नाम शामिल है. MP Transfer
MP Transfer : मध्यप्रदेश में तबादला उद्योग शुरू! उद्योग विभाग में महा प्रबंधक, प्रबंधक और सहायक प्रबंधकों के तबादले, देखें लिस्ट
photo by google
बता दे की राज्य एवं जिला स्तर पर कर्मचारियों के स्थानांतरण किए जाने के संबंध में नीति-2022 को लागू किए जाने के सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी कर दिए गए हैं. इससे आज शनिवार से अगले महीने की पांच तारीख (5 अक्टूबर) तक अफसरों और कर्मचारियों के तबादले हो सकेंगे. माना जा रहा है कि इस दौरान 20 हजार से ज्यादा अधिकारी और कर्मचारी इधर से उधर होंगे. MP Transfer

Atrocities on farmers : किसान ने कलेक्ट्रेट परिसर में खाया जहर, कई सालों से दिया था भूमि सुधार आवेदन; कलेक्टर बोले- मुझे नहीं है जानकारी

MP Transfer : मध्यप्रदेश में तबादला उद्योग शुरू! उद्योग विभाग में महा प्रबंधक, प्रबंधक और सहायक प्रबंधकों के तबादले, देखें लिस्ट
photo by google

Atrocities on farmers : बुजुर्ग का कहना है कि वह अपने काम के लिए सुबह जल्दी कलेक्ट्रेट आते हैं और देर शाम तक घर चले जाते हैं।  कई बार वे रात में जागते हैं, कई वर्षों के बाद भी भूमि सुधार आवेदन पर कुछ नहीं हुआ. MP Transfer

Atrocities on farmers : मध्य प्रदेश में किसानों की हालत गंभीर है यहां किसान आये दिन आंदोलन या फिर आत्महत्या जैसे बड़े कदम उठाने से भी पीछे नहीं रहते. अब छतरपुर जिले में एक बुजुर्ग किसान ने कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर जहरीला पदार्थ खा लिया. MP Transfer

 

इस घटना के बाद हड़कंप मच गया।  कलेक्ट्रेट परिसर में मौजूद अधिकारी आनन-फानन में बुजुर्ग को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे.  जहां उसे भर्ती किया गया था।  फिलहाल बुजुर्ग जिला अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज चल रहा है. MP Transfer

जानकारी के अनुसार छतरपुर जिले के हरपालपुर थाना क्षेत्र के बूंदी गांव निवासी उमाकांत तिवारी सोमवार को छतरपुर कलेक्टर संदीप जेआर को अपनी समस्या बताने छतरपुर कलेक्ट्रेट पहुंचे.  लेकिन कलेक्टर नहीं मिले।  जिसके चलते बुजुर्ग उमाकांत ने दोपहर 2 बजे कलेक्ट्रेट सभागार में जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया.  बुजुर्ग की हालत बिगड़ते देख अधिकारी उसे जिला अस्पताल ले आए. MP Transfer

भूमि सुधार आवेदन को लेकर बुजुर्ग कई वर्षों से परेशान हैं

बुजुर्ग उमाकांत तिवारी के मुताबिक वह पिछले कई सालों से भूमि सुधार के लिए आवेदन कर रहे हैं लेकिन जिला प्रशासन ने अभी तक उनके आवेदन पर कोई कार्रवाई नहीं की है.  वृद्ध का कहना है कि वह सुबह-सुबह कलेक्ट्रेट में काम के सिलसिले में आता है और देर शाम तक घर चला जाता है.  कई बार उन्हें रात हो जाती है।  लेकिन कई साल बीत जाने के बाद भी भूमि सुधार आवेदन पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. MP Transfer

कलेक्टर को नहीं है जानकारी

संबंधित मामले में जब हमने छतरपुर कलेक्टर संदीप जीआर को फोन किया तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस घटना की कोई जानकारी नहीं है.अभी संज्ञान में आया हैं. MP Transfer

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker