MP News

Singrauli News : वेजा वसूली के नाम पर मोरवा पुलिस को बदनाम करने की जा रही साजिश, गाड़ी मालिक व मोटर एसोसिएशन ने आरोपों का किया खंडन

snn

Singrauli News सिंगरौली। पुलिस कितना भी अच्छा काम करें लोगों का नजरिया उनके लिए अलग ही होता है। पिछले कुछ सालों में लोगों की मानसिकता बदली है जिसके कारण धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। कुछ हद तक पुलिस की सुधरी हुई छवि को कुछ तथाकथित लोग जिले में खराब कर रहे हैं. पिछले दिनों कुछ असामाजिक तत्वों ने शराब के नशे में पुलिस के साथ मारपीट की तो लोगों ने इस अवैध वसूली करार दे दिया. हालांकि गाड़ी माली व व्यापारी और मोटर एसोसिएशन ने पुलिस के ऊपर लगे अवैध वसूली के आरोपों को निराधार बताया है.Singrauli News

बता दें कि मोरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत एनसीएल की कई खदानें हैं जहां से कोयले का परिवहन सड़क के जरिए किया जाता है पिछले दिनों सड़क पर जाम लगा तो मौके पर जाम खुलवाने के लिए न केवल पुलिस पहुंची बल्कि मोटर एसोसिएशन की सदस्य भी पहुंच गए और जाम खुलवाने के लिए कवायत शुरू कर दी. इस बीच मोरवा थाना के एएसआई अरविंद चतुर्वेदी सड़क के बीचो बीच खड़ी कोल हब के ट्रक संचालक सही गाड़ी खड़ी करने की समझाइश दे रहे थे. लेकिन शराब के नशे में ट्रक ड्राइवर दबंगई दिखाते हुए बदतमीजी करने लगे और आगे का जाम खुलवाने के लिए पुलिस को समझाइश देने लगे और उनके साथ मारपीट कर फरार हो गए.Singrauli News

 

अवैध वसूली बताकर पुलिस को कर रहे बदनाम

पुलिस के साथ मारपीट होने के बाद कुछ तथाकथित लोग अब पुलिस को ही बदनाम करने में लग गए हैं. कुछ लोग पुलिस के साथ हुई इस घटना को पुलिस की दबंगई और भेजा बसूली की भ्रामक खबरें पोस्ट कर रहे हैं लेकिन इस बीच सिंगरौली कोल हब के अमित तिवारी ने बताया कि हमारी गाड़ी का ड्राइवर सड़क पर आड़ा तिरछा खड़ा कर सड़क को जाम कर दिया था. जाम खुलवाने के लिए जब एएसआई ने ट्रक ड्राइवर को गाड़ी साइट करने के लिए कहा तो उसने पुलिसकर्मी से ही आगे और पीछे की गाड़ियों को हटाने की बात कहने लगा बात बड़ तो वह पुलिसकर्मी से उलझ गया. उन्होंने यह भी कहा कि हमारी गाड़ी है ड्राइवर छत्तीसगढ़ का था जिसे मैंने घटना के बाद हटा दिया है और पुलिस के ऊपर भेजा वसूली के आरोप पूरी तरह से निराधार है यह पुलिस को बदनाम करने की साजिश है.Singrauli News

वहीं मोटर एसोसिएशन के अध्यक्ष विनोद सिंह ने पुलिस के ऊपर लगे अवैध वसूली के आरोपों को निराधार बताया है.Singrauli News

दरअसल मोरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत एनसीएल की कई खदानें हैं जहां से कोयले का परिवहन सड़क के जरिए किया जाता है ऐसे में सड़क पर चौबीसों घंटे हेवी ट्रेफक बना रहता है जिसके लिए पुलिस आवागमन सुचारु रुप से चालू रहे इसके लिए दिन-रात पसीना बहाती है तो वहीं दूसरी तरफ वाहन भी अधिक फेरे लगाने के फिराक में सड़क पर बेतरतीब चलते हुए आगे निकलने की होड़ में लगे रहते हैं. ऐसे में देखते ही देखते हैं सड़क पर गाड़ियां आड़ी तिरछी खड़ी होकर सड़क जाम कर देती हैं. ऐसे में पुलिस को जाम खुलवाने में कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ता है.Singrauli News

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker