अनोखी शादी, बैलगाड़ी से निकाली बारात - विंध्य न्यूज़

कटनी में अनोखी शादी, बैलगाड़ी से निकाली बारात

कटनी –कौन दिशा में ले के चला रे बटुहिया.. जी हां 4 दशक पूर्व धूम मचाने वाली नदियां के पार फ़िल्म का यह गाना इन बैलगाड़ियों को देखकर जरूर याद आ जाएगा।इसी फिल्म की थीम पर 26 फरवरी को एक दूल्हा सजकर तैयार हुआ और बारातियो के साथ अपनी दुल्हनिया को ब्याहने बैलगाड़ी में सवार होकर निकल पड़ा। यह सब कुछ रियल लाइफ में कटनी जिले की तहसील मुख्यालय बरही से महज 3 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत करौदीखुर्द का है ।करौदीखुर्द निवासी पेशे से इलेक्ट्रिशियन रामकिशोर जायसवाल उर्फ किशोरी के बेटे महेंद्र का विवाह ग्राम बिचपुरा में आरती से हुआ। करौदी से बिचपुरा की दूरी महज 3 किलोमीटर है। फिजूलखर्ची से बचने व अपनी पुरानी परंपरा को जीवित रखने व इस विवाह समारोह को यादगार बनाने के लिए दूल्हे के पिता किशोरी व उसके मित्र कालिदास पांडेय ने बैलगाड़ियों से बारात जाने का निर्णय लिया फिर क्या था करीब दर्जन भर बैलगाड़ियों को बारात के लिए रंग-रोहन किये ओर 26 फरवरी की रात 7 बजे बारात बिचपुरा के लिए डीजे,बैंडबाजों व गुदुम की धुनों के बीच पूरे उत्साह व धूमधाम से रवाना हुई । विवाह कार्यक्रम सम्पन होने के उपरांत अगले दिन दुल्हन की बिदाई बैलगाड़ी में ही बिचपुरा गांव से उसके ससुराल करौदीखुर्द के लिए हुई, जिसमे कौन दिशा में ले के चला रे बटुहिया नदिया के पार फ़िल्म का गाना भी बजा।बैल गाडियों से बारात निकालने की तैयारी को लेकर करौदी गांव में उत्साह का माहौल है,इस अनोखी बारात के लिए जरा हट कर उत्सुकता भी लोगो के सामने नजर आई ।

1 thought on “अनोखी शादी, बैलगाड़ी से निकाली बारात

  1. Whats Going down i’m new to this, I stumbled upon this I’ve found It absolutely useful and it has aided me out loads. I am hoping to contribute & help other customers like its helped me. Great job.

Comments are closed.