अमेठी में राहुल गांधी के जनसंपर्क कार्यालय पर प्रशासन ने मारा छापा, राजनीति गरमाई,  - विंध्य न्यूज़

अमेठी — उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में राहुल गांधी के जनसंपर्क कार्यालय पर रविवार को प्रशासन ने छापा मारा और वहां रखी राहत सामग्रियों की जांच-पड़ताल की। इस घटना के बाद राजनीति गरमा गई है। कांग्रेस ने इसे लेकर केंद्रीय मंत्री और स्थानीय सांसद #स्मृति इरानी को आडे़ हाथों लिया है। शायद श्री राहुल गांधी व कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा अमेठी की जनता को दी जा रही मदद योगी सरकार को हज़म नही हुई। वही डीएम ने छापे के बारे में जानकारी होने बताया है। राजनीतिक सूत्रों की माने तो प्रशासन को खबर मिली किस कोरोना से प्रभावित गरीबों को देने के लिए काफी मात्रा में राहत सामग्री उपलब्ध कराई गई है राहत सामग्री बांटकर कांग्रेश अपना वोट बैंक बढ़ाना चाह रही है। 


जानकारी के मुताबिक रविवार शाम को तहसीलदार सहित कुछ प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस टीम #अमेठी गौरीगंज स्थित कांग्रेस कार्यालय पहुंची। इसके बाद टीम सीधे राहुल गांधी के जनसंपर्क कार्यालय गई और वहां रखी राहत सामग्रियों की जांच पड़ताल की। वहां मौजूद लोगों से राहत सामग्रियों के बारे में जानकारी ली। ब्योरा जुटाने के बाद टीम वापस चली गई। कांग्रेस वर्किंग कमेटी मेंबर #रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि अमेठी में कोरोना पर राजनीति दुर्भाग्यपूर्ण। गौरीगंज जिला #कांग्रेस कार्यालय में बिना कारण व बिना वारंट प्रशासन छापा डालने पहुँचा।शायद श्री #राहुल गांधी व कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा अमेठी की जनता को दी जा रही मदद योगी सरकार को हज़म नही हुई।राजनीति छोड़ें, मिल कर मदद करें।