इंसान के साथ जानवरों तक पहुंचा कोरोना,बाघिन मिली कोविड-19 पॉजिटिव, - विंध्य न्यूज़

बाघिन,कुत्ता सहित बिल्ली को कोरोना संक्रमण

न्यूयार्क के ब्रॉन्क्स चिड़ियाघर में एक मादा बाघ में कोरोनो वायरस का टेस्ट पॉजिटिव आया.
न्यूयॉर्क. कोरोना वायरस के प्रकोप से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है इसकी जड़ें करीब 200 से ज्यादा देशों में पहुंच चुके हैं। इस महामारी की भयावहता इसी से लगाया जा सकता है कि किस तरह यह वायरस इन्सान से जानवरों को संक्रमित कर रहे है।जिसके चलते कई लोगों की जान चली गई. वहीं न्यूयार्क के एक चिड़ियाघर में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक बाघिन के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. यह इस तरह का पहला मामला है.अमेरिकी कृषि विभाग की राष्ट्रीय पशु चिकित्सा सेवा प्रयोगशाला के अनुसार, ब्रॉन्क्स चिड़ियाघर में रखी गई एक मादा बाघिन में कोरोनो वायरस का टेस्ट पॉजिटिव आया है. बाघ में कोरोना वायरस संक्रमित होने का यह पहला मामला है. एहतियात के तौर पर सारे जो बंद कर दिए गए हैं.

बाघिन में पहुंचा कोरोना 

माना जा रहा है कि बाघिन किसी संक्रमित व्यक्ति के नजदीक आने संक्रमण हुआ है,वाइल्ड लाइफ कंजर्वेशन सोसाइटी की ब्रोंक्स ज़ू ने एक विज्ञप्ति में कहा कि 4 साल की इस बाघिन में कोरोना वायरस किसी व्यक्ति से ट्रांसफर हुआ होगा. जबकि सुरक्षा के दृष्टिकोण से ब्रॉन्क्स चिड़ियाघर 16 मार्च से ही जनता के लिए बंद कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि इस जू में पांच अन्य बाघों और शेरों के सैम्पल लिए गए, जिसमें इनमें सांस की बीमारी के सिम्पटम्स दिख रहे हैं. ब्रोंक्स चिड़ियाघर में कई जानवर रहते हैं लेकिन किसी जानवर में इस तरह के कोई सिम्पटम्स नहीं दिख रहे हैं.


मालकिन से बिल्ली भी हुई कोरोना संक्रमित

बेल्जियम में बिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण का पहला मामला सामने आया था. इस बिल्ली में वायरस का संक्रमण उसकी अपनी ही मालकिन से हुआ है. बेल्जियम के हेल्थ डिपार्टमेंट ने इस मामले की पुष्टि की है. बेल्जियम के वायरल डिजीज इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के प्रमुख स्टीवन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मामले की जानकारी दी है. स्टीवन ने बताया कि एक हफ्ते पहले ही बिल्ली की मालकिन में कोरोना वायरस के संक्रमण के लक्षण दिखने शुरू हुए थे. एक हफ्ते बाद बिल्ली को भी वायरस से संक्रमित पाया गया.

 दो कुत्तों में मिला कोरोना संक्रमण
ये अपनी तरह का एकलौता मामला है. इसके पहले हांगकांग में दो कुत्तों को वायरस से संक्रमित पाया गया था. ये कुत्ता 60 साल की एक महिला का था. महिला को भी संक्रमण में पॉजिटिव पाया गया था. हांगकांग के एग्रीकल्चर फिशरीज एंड कंजर्वेशन डिपार्टमेंट का कहना था कि ये ऐसा केस था, जिसमें इंसानों से जानवरों में संक्रमण फैलने की संभावना दिख रही थी. कुत्ते को कुछ दिनों के लिए क्वारांटाइन रखा गया था. लेकिन बाद में उसकी मौत हो गई थी. हांगकांग में ही एक जर्मन शेफर्ड कुत्ते में वायरस का संक्रमण मिला था. उस कुत्ते को भी दूसरे मिक्स्ड ब्रीड कुत्तों के सात क्वारांटाइन में रखा गया था.

स्टीवन ने बताया कि हम इस बात पर जोर देंगे कि ये अपने तरह का एकलौता मामला है. इसके पहले इंसानों से जानवरों में वायरस के संक्रमण का कोई केस सामने नहीं आया है. इंसानों से जानवरों में संक्रमण फैलने की संभावना बहुत कम होती है. जानवरों में वायरस संक्रमण के पहले मामले में हांगकांग के पामेरियन कुत्ते का मामला था.