कोरोना वायरस से बचाने में यह आयुर्वेदिक औषधि व होम्योपैथी दवा आएगी आपके काम,जरूर देखें - विंध्य न्यूज़

ये दवाएं आपके बहुत काम आएंगीजिला आयुष अधिकारी ने जारी किया आदेश

सिंगरौली-जिला आयुष अधिकारी ने कोरोना वायरस के मद्देनजर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए एहतियाती स्वास्थ्य उपायों के तौर पर अपनी देखभाल के लिए आयुष औषधियों को लेने के निर्देश जारी किए। इनमें खासतौर से श्वसन संबंधी उपायों का जिक्र है। आयुर्वेदिक औषधि व होम्योपैथिक दवा लेने की लिए बताया गया है। आयुर्वेदिक औषधि से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए 3 औषधियों को लेना होगा। जिसमें त्रिकटु चूर्ण -2 से 3 ग्राम चूर्ण, 1 लीटर पानी से काढ़ा बनाकर सुबह-शाम, 1 से 2 ग्राम चूर्ण गर्म पानी से या काली चाय में डालकर पीना है साथ ही संशमनी वटी एक-एक गोली सुबह-शाम गर्म पानी से लेना है।अणु तेल दो-दो बूंद सुबह शाम नाक में डालना है इन सभी सभी औषधियोंं को 15 दिन तक सेवन करना है। 

होम्योपैथिक उपाय—जिला आयुष अधिकारी ने होम्योपैथिक में भी कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए होम्योपैथी की ‘आर्सेनिक एल्बम-30 की लिक्विड 3 दिन या गोलियां  6-6- गोली खाली पेट सुबह-शाम व बच्चों को तीन -तीन गोली खाली पेट सुबह-शाम लेने को कारगर उपाय माना है.

सामाजिक दूरी के साथ इन बातों का ध्यान रखें—नियमित रूप से दिन में कई बार हाथों को साबुन एवं साफ पानी से धोएं, बिना हाथ धोए अपनी आंख मुंह एवं नाक को न छुएं, संक्रमित सामग्रियों के संपर्क में आने के बाद आंख या नाक छूने से बचें। संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क में आने से बचें। सर्दी  खांसी  बुखार आदि होने पर अपने नजदीक के चिकित्सालय में जाकर अवश्य दिखाएं। 

4 thoughts on “कोरोना वायरस से बचाने में यह आयुर्वेदिक औषधि व होम्योपैथी दवा आएगी आपके काम,जरूर देखें

  1. You are my aspiration, I possess few blogs and sometimes run out from brand :). “Follow your inclinations with due regard to the policeman round the corner.” by W. Somerset Maugham.

  2. A large percentage of of whatever you mention is astonishingly accurate and that makes me wonder why I hadn’t looked at this in this light before. Your piece truly did switch the light on for me as far as this specific subject goes. Nevertheless there is just one point I am not necessarily too cozy with and whilst I attempt to reconcile that with the actual central idea of your issue, allow me see exactly what the rest of the readers have to say.Well done.

Comments are closed.