खाकी जी बने देवदूत, हर हाथ को मदद,खिला रहे खाना,खबर देखें - विंध्य न्यूज़

अभी है तो सिर्फ काम… काम और बस काम… काम भी इतना है कि काम के घंटे की बात करना बेमानी हो जाता है। अस्पताल पहुंचाना हो तो पुलिस… खाना खिलाना हो तो पुलिस… कहीं कोई फंस गया है तो पुलिस, हर काम के लिए पुलिस ही बुलाई जा रही है…..

सिंगरौली। जब भी किसी पर अन्याय,अत्याचार, दुर्व्यवहार होता है या फिर किसी तरह की मुसीबत आती है,तो वह पुलिस स्टेशन की ओर भागता है। यह मानव व्यवहार है कि पांच मिनट पहले जिस पुलिस को भला बुरा आलोचना कह रहे है, अगले ही पल वे रक्षक नजर आते हैं। सच तो यह है कि भारतीय व्यवस्था की जान हैं, पुलिस विभाग।
जब भी कठिन समय आया, पुलिस विभाग ने अपनी नींद और चैन सुकून खोकर हमारी रक्षा करती है। इन दिनों सिंगरौली में एक हजार से अधिक पुलिस व होमगार्ड कर्मचारी और अधिकारी लोगों के लिए देवदूत का काम कर रहे हैं। न इनके दिन का ठिकाना है, न रात का पता… नहाना, धोना, खाना-पीना तक भूल गए है। यहां तक कि ये अपने बच्चे घर परिवार को बिल्कुल भी समय नहीं दे पा रहे या फिर यूं कहें कि भूल गए हैं।

कोरोना वायरस के चलते ये अपने परिवारों से भी दूरी बनाए हुए हैं। इनके पास अभी है तो सिर्फ काम… काम और बस काम… काम भी इतना है कि काम के घंटे की बात करना बेमानी हो जाता है। अस्पताल पहुंचाना हो तो पुलिस… खाना खिलाना हो तो पुलिस… कहीं कोई फंस गया है तो पुलिस, हर काम के लिए पुलिस ही बुलाई जा रही है। जब हमारे परिवार के लोग हमें घरों से निकलने नहीं दे रहे हैं, ऐसे में वे अपने दिन-रात घरों से बाहर बिता रहे हैं… इन 15 सौ से अधिक देवदूतों को सिंगरौली की जनता का सलाम….
रात दिन लोगों की सुरक्षा में तैनात सिंगरौली पुलिस अधीक्षक टीके विद्यार्थी ने बताया कि हमारे जवान बेहतरीन काम कर रहे हैं। शहर में जहां भी मदद की जरूरत है, खाने की दिक्कत या किसी बुजुर्ग को दवा या अस्पताल जाने की जरूरत है, हमारे जवान पहुंच रहे हैं। प्रदेश भर में सिंगरौली पुलिस अपने शख्त काम के लिए जानी जाती है, लेकिन संकट की इस घड़ी में ममतामयी मां की तरह सेवा कर रही है।
जब जवानों ने खिलाया लोगों को खाना
21 दिन लॉकडाउन की सबसे बड़ी मार दिहाड़ी मजदूरों पर पड़ी है। स्वयंसेवी संगठनों व शासन के मदद से विभिन्न थानों में करीब 15 सौ लोगों को खाना खिलाने के साथ राशन उपलब्ध कराया गया है।थाना विंध्यनगर सिंपलेक्स कॉलोनी दुर्गा मंडप के पास गरीबों में खाद्य सामग्री, बैढ़न थाना, मोरवा थाना, लंघाडोल थाना,शासन चौकी में दिहाड़ी मजदूरों को खाना,बरगवां थाना में मजदूरों को खाना खिलाकर मानवता को जीवंत कर दिया।थाना प्रभारियों ने परिवार को मदद का हाथ बढ़ाया और परिवार को गेहूं, चावल, दाल, सब्जी, शक्कर, दूध और खाना का पैकेट देकर मदद की। बता दें कि सिंगरौली के कई थाना क्षेत्रों में पुलिसकर्मी बिना अपनी जान की परवाह किए लोगों की मदद कर रहे हैं।

टीम से कप्तान खुश
सिंगरौली पुलिस कप्तान टीके विद्यार्थी अपने जवानों के काम को देखते हुए खुश हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि पुलिसकर्मियों के काम में सहयोग करें। वे अपना लगातार काम कर रहे हैं। कृपया लोग बिना जरूरत के घरों से न निकलें। पुलिसकर्मी आपकी सेवा में मौजूद हैं। पर आपको भी मामले को गंभीरता से लेना होगा। तो वही हर आमखास का भरोसा भी पुलिस के प्रति बड़ा है।

नहाने के बाद परिवार से मिले
पुलिस कप्तान ने बात करते हुए कहा कि देश में चल रहे भयानक महामारी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए हम तैयार हैं। हमारे जवान हर हाल में लोगों की सुरक्षा कर रहे हैं। जवानों की सुरक्षा के लिए प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए मेडिसिन, मास्क,ग्लब्ज सहित थाने में ही कपड़ा धोने की व्यवस्था की गई है पुलिसकर्मी घर से सिविल ड्रेस में आकर यूनिफॉर्म पहनेंगे दिन भर ड्यूटी करने के बाद फिर वही उन्हीं फार्म थाने में छोड़ देंगे जहां धोबी द्वारा यूनिफॉर्म थाने में ही धुलेगी जिससे घर में इन्फेक्शन ना जाए। वहीं पुलिस कर्मी दो-तीन घंटे के अंतराल में हाथ धोने, गाड़ियों सही थाने को सेनीटाइज लगातार करते रहेंगे।

3 thoughts on “खाकी जी बने देवदूत, हर हाथ को मदद,खिला रहे खाना,खबर देखें

  1. Thanks for another informative web site. The place else may just I get that kind of info written in such a perfect manner? I’ve a undertaking that I’m just now running on, and I’ve been on the look out for such information.

Comments are closed.