किन्ननर बने मसीहा,कैसे खबर देखें, - विंध्य न्यूज़

भूख से तड़पते परिवारों को बांटा राशन, नाच-गाकर जीवन यापन करने बाली थर्ड जेंडर ने पेश की मिसाल 


डिंडोरी- किन्नर हमारे समाज का ही एक हिस्सा है। इनके बारे में लगभग सभी लोग जानते ही हैं कि ये न तो पूरे पुरुष होते हैं औन न ही स्त्री। लेकिन इनकी भी संवेदनाएं होती हैं और वह सब कुछ महसूस कर सकती हैं जो एक सामान आदमी या स्त्री। बावजूद इसके समाज इन्हें हेय दृष्टि से देखता है। समाज में जब भी कोई मुसीबत आती है तो यही किन्नर बढ़-चढ़कर लोगों की मदद करती हैं या फिर यह कहें कि गरीबों के लिए यह मसीहा से कम बिल्कुल भी नहीं है. कुछ ऐसा ही दिखा डिंडोरी जिले में जहां रजनी किन्नर गरीब असहाय लोगों को राशन सामग्री देते दिखी।दरअसल कोरोना वायरस अलर्ट के दौरान जहां पूरे देश में लाक डाउन है। गरीब मजदूर प्रतिदिन कमाने खाने वाला व्यक्ति दाना-दाना के लिए मोहताज था भूखों मरने की नौबत आ गई की। ऐसी परिस्थिति में किन्नरों ने गरीबों की मदद के लिए मसीहा बनकर सामने आई। किन्नर जी हां सही सुना आपने किन्नर जो हमेशा मांगकर और नाचते-गाते आपके घर से पैसा रूपया और आटा दाल चावल ले जाते थे वहीं किन्नर आज समाज के मजदूर वर्ग को असहाय लोगों को आटा,दाल,चावल,फल,तेल,कपडे़ और जरूरत की सामग्री बांटते दिखे।
गुरु हामिद से मिली प्रेरणा
यह पन्ना के किन्नर समाज के लोग हैं जो कि गरीब असहाय व्यक्तियों को बाकायदा बाजार से चावल आटा और तेल खरीद कर यहां गरीब बस्ती में बांटने आए हैं इन किन्नरों के प्रमुख रजनी किन्नर ने बताया कि  हमारे गुरु हामिद ने पहले भी पन्ना धर्म सागर के जीर्णोद्धार के लिए दस हजार रुपए दान किए थे और उन्हीं की प्रेरणा से आज हम देशभर में कोरोना वायरस से लॉक डाउन किया गया है जो रोज कमाने खाने वाली गरीब लोग हैं उनको आज हम खाने-पीने की सामग्री देकर मदद कर रहे हैं। 

घर में रहे व सामाजिक दूरी बनाने दी समझाइश
हमारा देश महान है इस बात की सत्यता इसी से पता चलती है कि जहां समाज में थर्ड जेंडर यानी किन्नर लोगों से उनके घरों में जाकर नाचते-गाते और झूमते उनकी शादी ब्याह में बच्चों के जन्मदिन पर अपने पेट भरने के लिए आटा,दाल चावल मांग कर अपना गुजारा करते हैं, लेकिन जब गरीबों को भूखा रहने की खबर लगी तो किन्नरों ने गरीबों के घर जाकर उन्हें राशन सामग्री वितरित किया साथ ही घर में रहने की हिदायत देते हुए सामाजिक डिस्टेंस बनाने की समझाइश दे रहे हैं।
000000

1 thought on “किन्ननर बने मसीहा,कैसे खबर देखें,

  1. I discovered your blog site on google and check a few of your early posts. Continue to keep up the very good operate. I just additional up your RSS feed to my MSN News Reader. Seeking forward to reading more from you later on!…

Comments are closed.