दिग्गज नेता ज्योतिसिंधिया व बड़वानी जिले के प्रो. सुमेर सिंह सोलंकी भाजपा से जाएंगे राज्यसभा - विंध्य न्यूज़

दिग्गज नेता सिंधिया ने कांग्रेस की हिलाई जड़, गिर जाएगी कांग्रेस सरकार !

प्रो. सुमेर सिंह ने कहा मां भारती की सेवा के लिए हमेशा तैयार हूं,प्रो. का पद छोड़ पहुंचे पार्टी दफ्तर 

मध्यप्रदेश – कांग्रेस सरकार की जड़े हिलाते ही भाजपा में 1 दिन पहले  सदस्यता लेने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा उम्मीदवार के रुप नाम का ऐलान कर दिया है,तो वहीं  दूसरा टिकट डॉ सुमेर सिंह सोलंकी को टिकट दिया है। इसके अलावा हरियाणा से रामचंद्र झांगड़ा और दुष्यंत कुमार गौतम, हिमाचल प्रदेश से इंदू गोस्वामी और महाराष्ट्र से डॉ भगवत कराड़ को बीजेपी ने टिकट दिया है।बड़वानी जिले के प्रो. सुमेर सिंह सोलंकी को राज्यसभा का टिकट मिलने के बाद पार्टी का आभार मानते हुए कहा कि वे मां भारती की सेवा के लिए हमेशा तैयार हैं।बड़वानी के शहीद भीमा नायक शासकीय महाविद्यालय के प्रोफेसर सोलंकी पूर्व खरगोन-बड़वानी भाजपा सांसद माकन सिंह सोलंकी के भतीजे हैं,वे बचपन से ही आरएसएस से जुड़े हुए हैं। तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भीभा जपा की ओर से राज्यसभा जाएंगे।

प्रो. का पद छोड़ पहुंचे पार्टी दफ्तर 
राज्यसभा उम्मीदवार बनाए जाने की सूचना सोलंकी को कॉलेज में ही मिली। इसके बाद उन्होंने अपने पद से त्याग पत्र देते हुए कहा कि मुझ़े सूचना मिली है, मेरी कोई तैयारी तो नहीं थी, लेकिन संगठन ने मुझसे कहा था कि आपको राज्यसभा भेजेंगे। इस पर मैंने उन्हें कहा था कि यदि मुझे मां भारती की सेवा का अवसर मिला तो मैं इसके लिए तैयार हूं। मैं एक शिक्षक हूं, मेरी पार्टी ने मुझे यह अवसर दिया, इसके लिए पार्टी का आभारी हूं। कॉलेज से सीधे वे पार्टी दफ्तर पहुंचे। साेलंकी के अनुसार संभवत: वे शुक्रवार को नामांकन दाखिल करेंगे।

दो राष्ट्रीय पुरस्कार और चार राज्य स्तरीय पुरस्कार हो चुके हैं पुरस्कृत


साेलंकी शहीद भीमा नायक शासकीय महाविद्यालय बड़वानी के राष्ट्रीय सेवा योजना के जिला संगठक हैं। सोलंकी अध्यापन के साथ ही समाज सेवा में सक्रिय हैं और इन्हें उत्कृष्ट कार्य के लिए कई बार पुरस्कृत किया जा चुका है। डाॅ. साेलंकी लंबे समय से स्वच्छता और अन्य सरकारी योजनाओं के बारे में लोगों को जागरूक करते रहे हैं। पिछले छह सालों में उन्होंने 240 गांवों में जागरूकता शिविर आयोजित किए और करीब साढ़े 600 जागरूकता रैली निकाली। इन्होंने सवा 500 गावों में स्वच्छता अभियान के लिए स्वच्छता दूत नियुक्त किए। इसके अलावा करीब डेढ़ सौ गाैरी बंधनों का निर्माण लोगों के सहयोग से करवाया। साेलंकी के मार्गदर्शन में बड़वानी जिले को राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत दो राष्ट्रीय पुरस्कार और चार राज्य स्तरीय पुरस्कार मिल चुकाहै।

अमेरिका से पढ़े हैं ज्योतिरादित्य

1 जनवरी 1971 को जन्मे सिंधिया ने 1993 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी अमेरिका के मैसाचुसैट्स शहर के कैंब्रिज में स्थित एक निजी विश्वविद्यालय है, जो इवी लीग का सदस्य है से इकोनॉमिक्स की डिग्री ली। 2001 में उन्होंने स्टैनफोर्ड ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए की डिग्री ली। ज्योतिरादित्य की 12 दिसंबर 1994 को बड़ौदा के गायकवाड़ राजघराने की प्रियदर्शिनी राजे से शादी हुई। ज्योतिरादित्य के पिता माधवराव सिंधिया का 30 सितंबर 2001 को विमान हादसे में निधन हो गया था। इसी साल ज्योतिरादित्य कांग्रेस में शामिल हुए। वे फरवरी 2002 में गुना सीट पर उपचुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे। 2004 में हुए लोकसभा चुनाव में इसी सीट से वे दोबारा चुने गए। 28 अक्टूबर 2012 से 25 मई 2014 तक पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कार्यकाल में केंद्रीय मंत्री रहे। सूत्रों की माने तो कांग्रेस के आला नेता भी जान चुके हैं कि अब कांग्रेस सरकार नहीं टिकने वाली है या फिर यू कहे कि सिंधिया ने मध्य प्रदेश में ना केवल कांग्रेस सरकार की जड़े हिलाई है बल्कि पूरी तरह से उखाड़ फेंका है।

3 thoughts on “दिग्गज नेता ज्योतिसिंधिया व बड़वानी जिले के प्रो. सुमेर सिंह सोलंकी भाजपा से जाएंगे राज्यसभा

  1. Oh my goodness! an incredible article dude. Thank you However I am experiencing issue with ur rss . Don’t know why Unable to subscribe to it. Is there anybody getting identical rss problem? Anyone who is aware of kindly respond. Thnkx

Comments are closed.