महाराष्ट्र से म.प्र.आ रहे 16 मजदूरों की ट्रेन से कटकर दर्दनाक मौत, प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर जताया खेद, - विंध्य न्यूज़


महाराष्ट्र —#महाराष्ट्र केऔरंगाबाद में 16 मजदूरों की ट्रेन से कटकर मौत (Aurangabad train run over) हो गई। ये सभी पैदल-पैदल ट्रेन पकड़ने रेलवे स्टेशन जा रहे थे। स्टेशन तक पहुंचने के लिए इन्होंने पटरी का रास्ता चुना और रात में वहीं सो गए, सुबह एक #मालगाड़ी से कटकर इनकी मौत हो गई। जबकि समूह के साथ चल रहे चार मजदूर जिंदा बच गए क्योंकि वे रेल की पटरियों से कुछ दूरी पर सो रहे थे.बेहद दर्दनाक इस घटना के बाद देश के प्रवासी मजदूरों की स्थिति को लेकर जो सवाल उठ रहे थे उन पर और भी ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

थकान के कारण पटरियों पर सो गए प्रवासी मजदूर—महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में शुक्रवार को एक मालगाड़ी की चपेट में आने के बाद 16 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई।करमाड पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि जालना से भुसावल की ओर पैदल जा रहे मजदूर मध्यप्रदेश लौट रहे थे। उन्होंने बताया कि वे रेल की पटरियों के किनारे चल रहे थे और #थकान के कारण पटरियों पर ही सो गए थे। अधिकारी ने बताया कि ट्रेन ने सुबह सवा पांच बजे उन्हें कुचल दिया।सभी मजदूर मध्यप्रदेश के थे और जालना में स्टील कंपनी में काम करते थे। 
प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर जताया खेद
#प्रधानमंत्री #नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर शुक्रवार को दुख जताया और कहा कि हरसंभव सहायता मुहैया कराई जा रही है. प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेल दुर्घटना में लोगों के मारे जाने से बहुत दुखी हूं,#रेल मंत्री #पीयूष गोयल से बात की है और वह स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं.

मध्य प्रदेश व महाराष्ट्र सरकार से मिलेंगे  पांच-पांच लाख रुपए—महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिवारों को वित्तीय मदद देने की घोषणा की है. मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान व महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये के मुआवजे देने का एलान किया है.