रक्षक बने भक्षक…चौकी प्रभारी ने चालक से मंगाई शराब,नहीं लाया तो की मारपीट,एसपी से हुई शिकायत, - विंध्य न्यूज़

सीधी। जब रक्षक ही भक्षक बन जाए तो फिर कौन बचाए कुछ ऐसा ही मामला दिखा चुरहट थाना अंतर्गत सेमरिया चौकी में जहां चौकी प्रभारी नेचौकी में कार्यरत वाहन चालक के साथ बेरहमी से जमकर लात-घूंसो से मारपीट की है। जिससे चालक के चेहरे सहित कमर में चोट आई है।जिसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक के पास चालक के द्वारा आवेदन देकर की गई है। चालक ने चौकी प्रभारी पर आरोप लगाया गया है कि वे मुझसे शराब मगवा रहे थे, मैं शराब लेने नहीं गया और अपने घर चला गया, जिसके कारण उनके द्वारा मेरे साथ बेरहमी से मारपीट की गई है। 
सेमरिया पुलिस चौकी में कार्यरत चालक अनिल कुमार विश्वकर्मा पिता रामजी कुमार विश्वकर्मा निवासी झगरहा के द्वारा पुलिस अधीक्षक आरएस बेलवंशी से इस बात की शिकायत किया की वह शांम को चौकी परिसर में जीप खड़ी कर अपने घर चला गया। घर पहुंचने पर चौकी में पदस्थ मुंशी को मोबाइल पर सूचना दी कि मैं अपने घर चला आया हूं, रात में कहीं गश्त में जाना होगा तो फोन लगवा दीजिएगा मैं आ जाउंगा। मुंशी ने कहा गया कि मैं कुछ नहीं जानता, मैं किसी से नहीं बताऊंगा तुम स्वयं चौकी आकर प्रभारी को बताओ। जिस पर मैं फिर से चौकी पहुंचा,जहां प्रभारी सुरसरी प्रसाद मिश्रा नहीं थे, तब जाकर उनके कमरे में देखा तो वे वहां मौजूद थे, जिनसे मैं अपनी बात करने लगा तो वे गुस्से में आकर गाली-गलौज करने लगे और कहे कि तुम्हे शराब लाने को बोला था तो तुम घर कैसे चले गए। इसी बात को लेकर गाली-गलौज करते हुए लात-घूंसो से मारपीट करने लगे,जिससे मेरे चेहरे व कमर में चोटे आई है। चालक के द्वारा पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर चौकी प्रभारी सुरसरी प्रसाद मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

4 thoughts on “रक्षक बने भक्षक…चौकी प्रभारी ने चालक से मंगाई शराब,नहीं लाया तो की मारपीट,एसपी से हुई शिकायत,

  1. I have been surfing on-line greater than 3 hours as of late, but I by no means discovered any fascinating article like yours. It is pretty value sufficient for me. In my opinion, if all webmasters and bloggers made good content as you did, the net will probably be much more useful than ever before. “Baseball is 90 percent mental. The other half is physical.” by Lawrence Peter Berra.

Comments are closed.