रेत माफिया ने अफसर टीम पर किया जानलेवा हमला,बाल-बाल बचे अधिकारी,जानिए क्या हुआ, - विंध्य न्यूज़


अवैध खनन पकड़ने गए अफसर की गाड़ी में ट्रैक्टर से मारी टक्कर,नायब तहशीलदार संजय मेश्राम व उपखण्ड अधिकारी श्रेयस गोखले पर अवैध खनन माफियाओं का हमला,मझौली थाना क्षेत्र के छुही, पोंडी, गंगयाई क्षेत्र के विभिन्न घाटों में  रेत का अवैध उत्खनन करने वालाें पर कार्रवाई

सीधी/मझौली।  जिले में रेत माफियाओं की हिम्मत इतनी बढ़ गई है कि वो पुलिस टीम पर भी हमला करने से नहीं डर रहे हैं.जी हां मझौली थाना क्षेत्र के छुही, पोंडी, गंगयाई क्षेत्र के विभिन्न घाटों में  रेत का अवैध उत्खनन पर कार्रवाई करने गए SDM व नायब तहसीलदार पर खनन माफिया ने हमला किया। वहां अवैध उत्खनन में लगे ट्रैक्टर-ट्राॅली के ड्राइवर ने SDM व नायब तहसीलदार अधिकारी की गाड़ी काे सामने से टक्कर मार दी। रात्रि 12:00 बजे की इस घटना में अधिकारी बाल-बाल बच गए लेकिन गाड़ी क्षतिग्रस्त हाे गई। ड्राइवर ट्रैक्टर छाेड़कर फरार हो गया।
गौरतलब है कि मझौली क्षेत्र में अवैध उत्खनन की शिकायतें चरम पर है, लेकिन खनिज विभाग के सूक्त सुस्त रवैए के चलते जिले की खनिज संपदा का दोहन खनिज माफिया लगातार कर रहे हैं.जिले में हो रहे अवैध उत्खनन पर कोई खास कार्यवाही नही की जा रही है वहीं मझौली पुलिस भी इसे रोकने कोई ठोस कदम नही उठा पा रही। सूत्रों की माने तो रेत के इस खेल पर खनिज माफियाओं को पुलिस महकमे का संरक्षण में लेने के कारण माफिया किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं।
यह है मामला
गत रात्रि ग्रामीणों से सूचना मिली कि मझौली थाना अंतर्गत छुही, पोंडी, गंगयाई क्षेत्र के विभिन्न घाटों में आधा दर्जन वाहन अवैध उत्खनन में लगे हैं नायब तहशीलदार संजय मेश्राम ने नवागत उपखण्ड अधिकारी श्रेयस गोखले से चर्चा कर रात्रि करीब 12 बजे स्थल निरीक्षण के लिए निकल पड़े, लेकिन रेत माफियाओ के मजबूत सूचना तंत्र ने इसकी लोकेशन माफियाओं को मिल गई। जिससे कई ट्रैक्टर भाग निकले लेकिन एक ट्रैक्टर अधिकारी द्वय के पकड़ में आ गया। जब सायरन बजाते हुए ट्रैक्टर के काफी आगे गाड़ी रोककर अधिकारी अपनी गाड़ी से नीचे उतर कर ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश किये लेकिन ट्रैक्टर चालक ट्रैक्टर रेश में करके उतर गया जिससे ट्रैक्टर बोलेरो गाड़ी के एक किनारे को छूता हुआ खेत मे जा पलटा, गनीमत रही कि दोनों अधिकारी गाड़ी से उतरकर ट्रैक्टर को रोकवा रहे थे। अधिकारी इस बात से अनजान थे कि बिना चालक के ही ट्रैक्टर उनकी तरफ बढ़ा चला आ रहा है। इस घटना में दोनों अधिकारी द्वय बाल बाल बचे। पूरी घटना छुही तिराहे की है।


सरपंच की सुपुर्दगी में खड़ा कराया ट्रैक्टर
रेत के खेल में पलटे ट्रैक्टर MP53AA 6851 को रात्रि होने के कारण छुही के पूर्व सरपंच की सुपुर्दगी में दे दिया गया और पुलिस को इसकी सूचना दी गयी और निर्देशित किया गया कि उक्त ट्रैक्टर को थाने में खड़ा कराया जाय। इस हमले से एक बात तो स्पष्ट है कि रेत माफियाओं को किसी का भय नहीं है।
इनका कहना है-
गत रात्रि मैं और एस डी एम मेरी गाड़ी से अवैध उत्खनन की सूचना पर निकले थे, जिसमे एक ट्रैक्टर चालक ने ऐसी हरक़त की जिसमे गाड़ी के एक किनारे ठोकर मरते हुए ट्रैक्टर खेत मे जा पलटा, इसके पीछे जो भी हैं उन्हें बख्शा नही जायेगा,लगातार कार्यवाही जारी रहेगी।
संजय मेश्रामनायब तहसीलदार मड़वास मझौली