सीधी के चार लोग डॉ राजेश सिंघल के अस्पताल में गये थे इलाज कराने,प्रशासन ने शुरु की तलाश, - विंध्य न्यूज़


सीधी : वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का संक्रमण सीधी जिले में भी पहुंचने की संभावना जताई जा रही है।इस खबर से सीधी जिले में हड़कंप मच गया है। दरअसल डॉ राजेश सिंघल के संपर्क में आने वालों की जो सूची रीवा जिला प्रशासन ने जारी की है उस सूची में चार सीधी जिले के लोगों को भी शामिल किया गया है। । रीवा जिला प्रशासन की जारी इस सूची में चार जो लोग सीधी से रीवा डॉक्टर सिंघल के अस्पताल जा कर के वहां अपना इलाज करवाया था इस आधार पर इन चारों लोगों का नाम उस लिस्ट में शामिल किया गया है एक नागरिक अमिलिया इलाके है दूसरा थाना रामपुर नैकिन इलाके का है तीसरा साऊथ करोदिया और चौथा भी करौंदिया इलाके का है।


गौरतलब है कि रीवा में नर्सिंग होम संचालन करने वाले डॉक्टर राजेश सिंघल कि कोरोना रिपोर्ट पाज़िटिव आने के बाद उनकी ट्रैवल हिस्ट्री खंगालने पर पता चला कि सीधी जिले के चार लोग भी डाक्टर के संपर्क में आए थे और अब ये खबर सीधी जिले वासियों के लिए भी चिंता का विषय है क्यूंकि जिस तरह सीधी वालों ने लाक डाउन का माखौल उड़ाया है और अगर इन चारों में से किसी को भी कोरोना संक्रमण पाया जाता है तो फिर जिले में कोरोना का कहर तय है।

रीवा जिला प्रशासन की जारी सूची के बाद सीधी में भी एहतियातन कदम उठाए जा रहे हैं और ये 4 लोग जो सीधे तौर पर डॉ राजेश सिंघल के अस्पताल और राजेश सिंघल से संपर्क में आए थे इनकी तलाश शुरू कर दी है, सीधी जिला प्रशासन ने इस मार्फत एक अपील भी जारी की है कि जो भी लोग इन लोगों के संपर्क में हो वह अपनी खुद की सूचना जिला प्रशासन को दें, डॉ राजेश सिंघल में सीधी के लोगों के संपर्क में आने के बाद सिंगरौली में भी विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

विंध्या हास्पिटल रिसर्च सेंटर रीवा से डाक्टर राजेश सिंघल से मिलने वालों कि सूची सार्वजनिक हुई है जिसमें डॉक्टर राजेश सिंघल से मिलने वालो मे सीधी से बालमीक जायसवाल,शैलेन्द्र जायसवाल , रामपुर नैकिन से दीपेश सिंह और अमिलिया से संतोष गुप्ता ने इलाज कराया था। पूरे मामले में गोपदबनास , चुरहट और सिहावल के एसडीएम लोगों कि तलाश में जुटे हैं।