राष्ट्रीय

हैरतअंगेजः 16 साल की बेटी ने मां को क्यों उतारा मौत के घाट, प्रेमी वीडियो कॉल पर बता रहा था तरीका

नई दिल्लीः हरियाणा के फरीदाबाद में हुई एक हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है. जिसमें चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. पुलिस का कहना है कि नाबालिग बेटी ने ही अपनी मां की हत्या की थी. पुलिस ने दावा किया है की हत्या के दौरान नाबालिग बेटी का प्रेमी उसे वीडियो कॉल पर हत्या के तरीके बता रहा था. फिलहाल पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है. 

पुलिस ने बताया कि फरीदाबाद के उड़िया कालोनी डबुआ में रहने वाली 16 वर्षीय नाबालिग यूपी के बुलंदशहर के निवासी 18 साल के दीपांशु रिलेशन में थे और दोनों शादी करना चाहते थे. लेकिन लड़की की मां को इस शादी से एतराज था मां शादी का लगातार विरोध कर रहे थे इससे नाराज बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर मां की हत्या की साजिश रच डाली इसके बाद दोनों ने वारदात को अंजाम दिया।

नींबू पानी में नींद की गोलियां मिलाकर दी

पुलिस के अनुसार घटना के दिन आरोपी दीपांशु ने बीती रात 10 जुलाई को नींद की गोलियां लाकर प्रेमिका को दी जिसके बाद लड़की ने रात को नींबू के पानी में मां को नींद की गोलियां डालकर दीं. इसके बाद प्रेमी ने उसे वीडियो कॉल कर हत्या करने का तरीका बताया. इसके बाद 11 जुलाई से पुलिस मामले में जांच कर रही थी. डीएलएफ क्राइम ब्रांच की टीम को मामले में जांच के निर्देश दिए गए थे. मामले में पुलिस ने दो लोगों को पकड़ा है.

वीडियो कॉल पर प्रेमी देता रहा निर्देश
खबर के अनुसार,नाबालिग ने पहले तकिए से मां का मुंह दबाया और फिर चुन्नी से गला दबाकर हत्या कर दी. इसके बाद देर रात आरोपी दीपांशु ने वीडियो कॉल कर अपनी प्रेमिका को हत्या करने का तरीका बताया। 11 जुलाई को नाबालिग के भाई ने पुलिस में अपनी मां की हत्या की शिकायत दर्ज कराई. जिसके बाद क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने मामले की जांच शुरू की. ब्लाइंड मर्डर होने के चलते पहले पुलिस भी थोड़ा उलझी लेकिन आखिरकार पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया. पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपी बीते 2 साल से रिलेशन में थे. फिलहाल पुलिस ने आरोपी दीपांशु और नाबालिग प्रेमिका को हिरासत में लेकर कोर्ट में पेश किया, जहां से अदालत ने दीपांशु को जेल भेज दिया है और प्रेमिका को नाबालिग जेल भेजा गया है.   

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker