BPCL ग्राहकों के लिए खुशखबरी…..WhatsApp से बुक करिए गैस सिलिंडर और पेमेंट करें ऑनलाइन,7 करोड़ ग्राहकों को मिलेगा फायदा - विंध्य न्यूज़


भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने मंगलवार को ग्राहकों की सुविधा के लिये देशभर में व्हाट्सएप के जरिये रसोई गैस बुकिंग करने की सेवा शुरू करने की घोषणा की। देश की यह दूसरी सबसे बड़ी पेट्रोलियम वितरण कंपनी विनिवेश सूची में रखी गई है। कंपनी के 7 करोड़ एलपीजी ग्राहक हैं को यह सुविधा मिलेगी। बीपीसीएल ने एक वक्तव्य में कहा, ” मंगलवार से भारत गैस (BPCL का LPG ब्रांड नाम) के देशभर में स्थित ग्राहक कहीं से भी व्हाट्सएप के जरिये खाना पकाने का गैस सिलेंडर बुक करा सकते हैं।   कंपनी ने कहा है कि उसने सिलेंडर बुकिंग के लिये एक नया व्हट्सएप बिजनेस चैनल की शुरुआत की है।

कंपनी ने कहा है कि व्हाट्सएप पर यह बुकिंग BPCL स्मार्टलाइन नंबर -1800224344 पर ग्राहक के कंपनी के पास पंजीकृत मोबाइल नंबर से हो सकती है।  BPCL के विपणन निदेशक अरुण सिंह ने इस एप को जारी करते हुये कहा, ”व्हट्एप के जरिये एलपीजी बुकिंग करने के इस प्रावधान से ग्राहकों को और आसानी होगी। व्हट्एएप अब आम लोगों के बीच काफी सामान्य हो चला है। चाहे युवा हो या फिर बुजुर्ग सभी इसका इस्तेमाल करते हैं और इस नई शुरुआत से हम अपने ग्राहकों के और करीब पहुंचेंगे।

मिली जानकारी के मुताबिक व्हट्एप के जरिये बुकिंग करने के बाद ग्राहक को बुकिंग होने का संदेश प्राप्त होगा। इसके साथ ही एक लिंक भी उसे प्राप्त होगा जिस पर वह डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड, यूपीआई और अमेजन जैसे अन्य भुगतान एप के जरिये भुगतान भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कंपनी इसके साथ ही एलपीजी डिलिवरी पर नजर रखने और ग्राहकों से उसके बारे में उनकी प्रतिक्रिया लेने जैसे नये कदमों पर भी गौर कर रही है। आने वाले दिनों में कंपनी ग्राहकों को सुरक्षा जागरुकता के साथ ही और सुविधायें भी प्रदान करेगी।

देश की दूसरी सबसे बड़ी ऑयल मार्केटिंग कंपनी भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने मैसेजिंग एप्लीकेशन WhatsApp के जरिए गैस बुकिंग की सर्विस शुरू कर दी है। कंपनी की इस सर्विस से 7 करोड़ से ज्यादा ग्राहकों को फायदा होगा। बीपीसीएल इंडियन ऑयल के बाद दूसरी सबसे बड़ी गैस सिलिंडर सर्विस देने वाली कंपनी है।

5 thoughts on “BPCL ग्राहकों के लिए खुशखबरी…..WhatsApp से बुक करिए गैस सिलिंडर और पेमेंट करें ऑनलाइन,7 करोड़ ग्राहकों को मिलेगा फायदा

  1. Hello, i think that i saw you visited my site so i came to “return the favor”.I’m attempting to find things to improve my site!I suppose its ok to use some of your ideas!!

  2. Hiya! I simply would like to give an enormous thumbs up for the nice info you could have right here on this post. I will probably be coming back to your weblog for extra soon.

  3. I cling on to listening to the news speak about getting free online grant applications so I have been looking around for the finest site to get one. Could you tell me please, where could i acquire some?

Comments are closed.