राष्ट्रीय

PM Modi Stuck On Punjab Flyover: फ्लाईओवर पर फंस गया PM का काफिला,बोलें-CM को Thanks कहना कि मैं भटिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया’,

PM Modi Stuck On Punjab Flyover : ANI ने ट्वीट कर बताया कि दिल्ली लौटते समय पीएम मोदी ने भटिंडा एयरपोर्ट पर अधिकारियों से कहा, ''अपने सीएम (चरणजीत सिंह चन्नी) को थैंक्स कहना कि मैं भटिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया।

PM Modi Stuck On Punjab Flyover: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पंजाब के दौरे पर थे, लेकिन इस दौरान अप्रत्याशित घटना हुई। जब वे बठिंडा से हुसैनीवाला जा रहे थे, तब उनकी सुरक्षा में चूक हो गई। प्रदर्शनकारियों की वजह से उनका काफिला एक फ्लाईओवर पर 15 से 20 मिनट तक रुका रहा। केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इस घटना को प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में ‘‘गंभीर चूक’’ करार दिया है। ANI ने ट्वीट कर बताया कि दिल्ली लौटते समय पीएम मोदी ने भटिंडा एयरपोर्ट पर अधिकारियों से कहा, ”अपने सीएम (चरणजीत सिंह चन्नी) को थैंक्स कहना कि मैं भटिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया। जानिए पूरा घटनाक्रम… 

गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पीएम मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान गंभीर सुरक्षा खामी के बाद उनके काफिले ने लौटने का फैसला किया है। बयान में यह भी कहा गया कि मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है। ANI के ट्वीट पर एक यूजर ने लिखा कि पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी को धन्यवाद देना की मैं जिन्दा लौट आया हूँ : नरेंद्र मोदी! एक दूसरे यूजर ने लिखा कि ये PM @narendramodi जी की सुरक्षा में चूक का मामला नहीं हैं ये देश की सुरक्षा में सेंधमारी हैं । तत्काल प्रभाव से पंजाब सरकार को बर्खास्त कर देना चाहिए @AmitShah जी , वैसे भी बॉर्डर राज्य है चुनाव होने ही वाले हैं ।

फिरोजपुर में होने वाली रैली रद्द

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज पंजाब के फिरोजपुर में होने वाली रैली रद्द हो गई है. रैली के रद्द होने की वजह किसान संगठनों का विरोध बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि किसान मजदूर संघर्ष समिति के बैनर तले किसानों ने गुरदासपुर नेशनल हाईवे को जाम कर दिया. पीएम मोदी का काफिला इसी रास्ते से होकर गुजरना था, लेकिन हाईवे जाम होने की वजह से प्रधानमंत्री का काफिला करीब 15 मिनट तक रुका रहा, लिहाजा रैली रद्द करनी पड़ी. पीएम की सुरक्षा में चूक के मामले पर गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से रिपोर्ट मांगी है।करीब 13 महीने चले किसान आंदोलन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार पंजाब दौरे पर आए थे। उन्हें फिरोजपुर जाना था, जहां 42,750 करोड़ रुपये की विकास योजनाओं की नींव रखनी थी। मौसम विभाग ने यहां पहले ही बारिश की चेतावनी जारी की थी। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में 10 हजार जवानों की तैनाती की गई थी।

प्रधानमंत्री बठिंडा पहुंचे, लेकिन मौसम खराब के चलते रुकना पड़ा
प्रधानमंत्री का विशेष विमान बुधवार सुबह बठिंडा के एयरफोर्स स्टेशन पर पहुंचा। यहां मौसम खराब था। यहां से उन्हें हेलिकॉप्टर के जरिए हुसैनीवाला जाना था, लेकिन कोहरे और बारिश की वजह से दृश्यता की कमी थी। करीब 20 मिनट तक प्रधानमंत्री एयरफोर्स स्टेशन पर ही रुके रहे।

सड़क मार्ग से जाने का हुआ फैसला
जब मौसम साफ नहीं हुआ तो प्रधानमंत्री के काफिले को सड़क मार्ग के जरिए हुसैनीवाला ले जाने का फैसला हुआ। बठिंडा से हुसैनीवाला के बीच दूरी 122 किलोमीटर है। सड़क मार्ग से यह दूरी तय करने में दो से सवा दो घंटे का वक्त लगता है। पंजाब पुलिस के डीजीपी से एसपीजी और गृह मंत्रालय ने बात की। उनकी तरफ से जरूरी सुरक्षा इंतजामों की पुष्टि होने के बाद प्रधानमंत्री का सड़क मार्ग से सफर शुरू हुआ। 

हुसैनीवाला के नजदीक हुआ प्रदर्शन
प्रधानमंत्री को हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था। उनका काफिला करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर था, लेकिन बीच में प्रदर्शनकारियों ने रास्ता रोक रखा था। इस वजह से प्रधानमंत्री का काफिला एक फ्लाईओवर पर 15-20 मिनट के लिए रुका रहा। फ्लाईओवर पर खड़े एसपीजी कमांडो और पंजाब पुलिस के अधिकारियों की तस्वीरें वायरल हो गईं।

Back to top button