पंचांग पुराण

Shani 2021 Rashifal: 2021 में शनि की टेढ़ी नजर, किसे करेंगे कंगाल-कौन होगा मालामाल ?

Shani 2021 Rashifal: 2021 में किन राशि पर शनि की टेढ़ी नजर, किसे करेंगे कंगाल-कौन होगा मालामाल ?सूर्य पुत्र शनि को कर्मफल दाता भी कहा जाता है. शनि की कृपा हो तो व्यक्ति के सभी बिगड़े काम बनने लगते हैं और उसे हर काम में सफलता मिलती है. वहीं अगर शनि की बुरी दृष्टि पड़ जाए तो व्यक्ति बने बनाए काम भी बिगड़ने लगते हैं. शनि का गोचर (Saturn Transit), शनि की साढ़ेसाती और शनि की महादशा से जीवन में बड़े-बड़े परिवर्तन होते हैं।

Shani 2021 Rashifal: शनि 18 फरवरी को धनिष्ठा नक्षत्र में प्रवेश करेगा। यह गोचर विशेष रूप से 4 राशियों वाले जातकों की किस्मत बदलने का काम करेगा। धन वृद्धि के प्रबल योग हैं।कर्मफल दाता शनिदेव नक्षत्र परिवर्तन करने जा रहे हैं। शनि के नक्षत्र परिवर्तन 4 राशि वालों शुभ फलदायी साबित हो सकता है। कुछ पर शनि जी की टेढ़ी नजर रहेगी। जहां कहीं लोग कंगाल हो सकते हैं तो वही कुछ लोगों की किस्मत बदल जाएगी और वह चंद मिनटों में करोड़पति हो जाएंगे। आइए जानते हैं ये 4 राशियां कौन सी है।

शनि देव: कर्म दाता शनि देव के राशि परिवर्तन की तरह, नक्षत्र परिवर्तन भी बहुत महत्वपूर्ण है। शनि की प्रत्येक चाल का लोगों के जीवन पर विशेष प्रभाव पड़ता है। 29 अप्रैल 2022 को शनि बदल जाएगा लेकिन उससे पहले इस ग्रह का नक्षत्र बदल जाएगा। शनि 18 फरवरी को श्रवण नक्षत्र से धनिष्ठा नक्षत्र में प्रवेश करेंगे। जहां 15 मार्च 2023 तक शनि इस नक्षत्र में विराजमान रहेगा।जानिए किन राशियों का इसका सबसे ज्यादा शुभ प्रभाव पड़ेगा।वैदिक पंचांग के अनुसार वर्तमान में शनि श्रवण नक्षत्र में संचार कर रहा है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार 22 जनवरी 2021 को शनि श्रवण नक्षत्र में प्रकट हुए थे।

वैदिक ज्योतिष में कर्म के दाता और आयु के दाता शनि देव का स्वरूप और नक्षत्र परिवर्तन बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। वहीं शनि की चाल बेहद धीमी मानी जाती है। शनि को एक राशि से दूसरी राशि में जाने में लगभग 30 महीने का समय लगता है। आपको बता दें कि साल 2022 में शनि की राशि भी बदल रही है। लेकिन उससे पहले शनि राशि परिवर्तन करने वाला है। जिसका सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा लेकिन 4 राशियां ऐसी हैं जिनके विशेष लाभ हो सकते हैं

वैदिक ज्योतिष के अनुसार धनिष्ठा नक्षत्र का स्वामी मंगल है। इस नक्षत्र के अधिष्ठाता देवता अष्ट वसावल हैं और राशि स्वामी शनि देव है। धनिष्ठा नक्षत्र के पहले दो चरणों से जन्म लेने वाले व्यक्ति की जन्म राशि मकर होती है और अंतिम दो चरणों में जन्म लेने पर राशि कुंभ होती है। वहीं इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले जातक पर शनि और मंगल का विशेष प्रभाव पड़ता है। तो मेष, वृश्चिक, मकर और कुंभ राशि के लिए शनि का राशि परिवर्तन शुभ हो सकता है।

मेष राशि (mesh Rashi): यह राशिफल आपके लिए फायदेमंद साबित होने वाला है। इस दौरान आप आर्थिक परेशानियों से निजात पाने में सफल रहेंगे। कार्यक्षेत्र में आपको हर कार्य में सफलता मिलने के योग नजर आ रहे हैं। आपको अच्छी पदोन्नति मिलने के साथ-साथ आय में वृद्धि की संभावना दिखाई दे रही है। कई नौकरी चाहने वालों को इस दौरान नौकरी के नए प्रस्ताव मिल सकते हैं।
वर्ष 2022 में शनि देव मकर राशि मे लग्न भावस्थ होकर प्रभाव स्थापित करेंगे। लग्नेश का स्वगृही होना बड़ी बात होती है। शश नामक पंच महापुरुष योग का निर्माण करके प्रभाव स्थापित करेंगे। ऐसे में मनोबल उच्च का बना रहेगा। स्वास्थ्य उत्तम बना रहेगा। सामाजिक, पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। नेतृत्व क्षमता में वृद्धि होगा।

वृश्चिक राशि (vrishchik Rashi) : यह राशि योग को आपके लिए काफी अनुकूल बनाएगी। आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और आप अपने किसी पुराने कर्ज से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकेंगे। कई जातियों की आय एक से अधिक स्रोतों से हो सकती है। काम के सिलसिले में आपको किसी यात्रा पर जाना पड़ सकता है। धन लाभ के योग बन रहे हैं।
वृश्चिक राशि के लोगों के लिए भी लग्नेश होने के कारण शनिदेव परम राजयोग कारक ग्रह होते है। यद्यपि की व्ययेश भी होते हैं परंतु लग्नेश होने के लाभ प्रदायक के रूप में प्रभाव स्थापित करते है। इस वर्ष 2022 में मकर राशि मे द्वादश भावस्थ होकर गोचरीय संचरण करेंगे फलतः व्यय में अधिकता बनी रहेगी। घर से दूरी, बड़ी यात्रा के भी आसार बनेंगे। व्यापारिक या रोजगार के लिए प्रदेश या विदेश की भी यात्रा की संभावना बनेगी।

मकर राशि( makar Rashi): इस राशि वालों के लिए यह राशि विशेष रूप से फलदायी साबित होगी। कार्यक्षेत्र में स्थितियां आपके पक्ष में रहेंगी। आपको अपने व्यवसाय को तेजी से बढ़ाने के लिए उत्तोलन मिलता है। आपके भाग्य में वृद्धि होगी। पैसों की बचत करने में आप सफल होंगे।
मकर राशि के लोगों के लिए शनि शुभ ग्रह के रूप में कार्य नहीं करता है। उनकी स्थिति के अनुसार शुभ या अशुभ फल प्रदान करें। वर्ष 2022 में केवल मीन राशि वालों के लिए ही शनि और मकर राशि का संचरण होता रहेगा। ऐसे में वे कड़ी मेहनत के फल में पूर्णता प्रदान करते हुए आर्थिक लाभ प्रदान करेंगे।

कुंभ राशि (Kumbh Rashi): शनि का यह राशि परिवर्तन आपके लिए काफी अच्छा साबित होगा. नौकरी में परेशानियां दूर होंगी। व्यापारी जातियों को भी इस अवधि में अच्छा लाभ प्राप्त करने के कई अवसर प्राप्त होंगे। नया व्यवसाय शुरू करना इस समय आपके लिए विशेष रूप से अनुकूल रहेगा। आमदनी में वृद्धि की प्रबल संभावना है।
कुंभ राशि में शनि धन और पराक्रम का कारक ग्रह है। इसलिए इसे मध्यम फल देने वाला ग्रह कहा जाता है। वर्ष 2022 में गृहस्थ स्थिति में रहकर धन भव अपना प्रभाव स्थापित करेगा। इस आने वाले वर्ष में धनु लग्न के लोगो के लिए धनगम के स्रोत को बढ़ाएगा। वाणी व्यवसाय, बिक्री बाजार, अध्ययन, अध्यापन, राजनीति के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए समय अनुकूल रहेगा।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker