राजनीति

Code of Conduct Violation : शिवराज के भोज पर कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग में की शिकायत, आचार संहिता के उल्लंघन का मामला,

Code of Conduct Violation : Congress complained to the Election Commission on Shivraj's banquet, a case of violation of the code of conduct,

Code of Conduct Violation : CM Shivraj Singh Chauhan ने पंचायत चुनाव के नव निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को badhai दी और सेवा का संकल्प दिलाया. साथ ही सीएम हाउस में भोज कार्यक्रम भी रखा गया था. इसे लेकर कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की है. (Code of Conduct Violation)

Code of Conduct Violation:

भोपाल 28 June : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में निर्विरोध चुने गए प्रत्याशियों के साथ भोजन करना महंगा पड़ गया है.(CM Shivraj Panchayat Party). मुख्यमंत्री निवास में सीएम शिवराज ने निर्विरोध निर्वाचित प्रत्याशियों के साथ भोजन कार्यक्रम किया. इसे लेकर कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग में शिकायत कर कहा कि, सह भोज कराना आचार संहिता का खुला उल्लंघन के दायरे में आता है. (Code of Conduct Violation)

मप्र कांग्रेस ने मुख्यमंत्री निवास में सोमवार को हुए निर्विरोध निर्वाचित प्रत्याशियों को निर्वाचन प्रक्रिया के चलते सह-भोज कराने को आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन बताया है. कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर भोज समारोह का सम्पूर्ण खर्च सीएम शिवराज सिंह चौहान से शासकीय खजाने में जमा कराने की शिकायत करते हुए प्रकरण दर्ज करने की मांग की.

कांग्रेस नेता जेपी धनोपिया ने निर्वाचन आयोग को लिखे पत्र में कहा है कि प्रदेश में नगरीय निकाय के चुनाव सम्पन्न हो रहे हैं तथा आदर्श आचार संहिता प्रभावशील है. प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत एवं नगरीय निकाय के चुनाव की प्रक्रिया चल रही है. कुछ प्रत्याशियों के निर्विरोध निर्वाचित होना चुनाव प्रक्रिया का एक अंग है.

ऐसे में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शासकीय निवास (मुख्यमंत्री निवास) में शासकीय खर्च पर प्रत्याशियों को सह-भोज कराया जाना सरासर प्रभावशील आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन है. क्योंकि जब तक चुनावी प्रक्रिया पूर्ण नहीं होती तब तक किसी भी व्यक्ति का शासकीय स्तर पर इस तरह का सार्वजनिक स्वागत-सम्मान किए जाने से वर्तमान में चल रही चुनावी प्रक्रिया पर विपरीत प्रभाव पड़ता है.

धनोपिया ने चुनाव आयोग से मांग की है कि मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शासकीय सम्पत्ति एवं धन का दुरुपयोग कर निर्विरोध निर्वाचित प्रतिनिधियों का समारोह आयोजित कर स्वागत-सम्मान एवं सहभोज देकर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है. चूंकि राजधानी भोपाल मे भी आदर्श आचार संहिता प्रभावशील है, ऐसे में किसी भी शासकीय सम्पत्ति (मुख्यमंत्री निवास) का उक्त चुनावी प्रक्रिया में उपयोग किया जाना घोर आपत्तिजनक है.

इसलिए उनके विरूद्ध उचित कार्यवाही की जाये साथ ही 27 जून 2022 को सामूहिक भोज का सम्पूर्ण खर्च मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से शासकीय खजाने में जमा कराने के आदेश जारी किए जाये, जिससे कि वर्तमान में चल रही चुनावी प्रक्रिया निष्पक्ष एवं स्वतंत्र रूप से सम्पन्न हो सके जो कि न्यायोचित होगा.

MP : Congress complained to the Election

भोपाल, 28 जून – मप्र कांग्रेस ने मुख्यमंत्री निवास में सोमवार को हुए निर्विरोध निर्वाचित प्रत्याशियों को निर्वाचन प्रक्रिया के चलते सह-भोज कराने को आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन बताया है. कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर भोज समारोह का सम्पूर्ण खर्च सीएम शिवराज सिंह चौहान से शासकीय खजाने में जमा कराने की शिकायत करते हुए प्रकरण दर्ज करने की मांग की. Code of Conduct Violation

कांग्रेस नेता जेपी धनोपिया ने निर्वाचन आयोग को लिखे पत्र में कहा है कि प्रदेश में नगरीय निकाय के चुनाव सम्पन्न हो रहे हैं तथा आदर्श आचार संहिता प्रभावशील है. प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत एवं नगरीय निकाय के चुनाव की प्रक्रिया चल रही है. कुछ प्रत्याशियों के निर्विरोध निर्वाचित होना चुनाव प्रक्रिया का एक अंग है, ऐसे में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शासकीय निवास (मुख्यमंत्री निवास) में शासकीय खर्च पर प्रत्याशियों को सह-भोज कराया जाना सरासर प्रभावशील आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन है. Code of Conduct Violation

क्योंकि जब तक चुनावी प्रक्रिया पूर्ण नहीं होती तब तक किसी भी व्यक्ति का शासकीय स्तर पर इस तरह का सार्वजनिक स्वागत-सम्मान किए जाने से वर्तमान में चल रही चुनावी प्रक्रिया पर विपरीत प्रभाव पड़ता है. Code of Conduct Violation

धनोपिया ने चुनाव आयोग से मांग की है कि मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शासकीय सम्पत्ति एवं धन का दुरुपयोग कर निर्विरोध निर्वाचित प्रतिनिधियों का समारोह आयोजित कर स्वागत-सम्मान एवं सहभोज देकर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है. Code of Conduct Violation

राजधानी भोपाल मे भी आदर्श आचार संहिता प्रभावशील है, ऐसे में किसी भी शासकीय सम्पत्ति (मुख्यमंत्री निवास) का उक्त चुनावी प्रक्रिया में उपयोग किया जाना घोर आपत्तिजनक है. इसलिए उनके विरूद्ध उचित कार्यवाही की जाये साथ ही 27 जून 2022 को सामूहिक भोज का सम्पूर्ण खर्च मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से शासकीय खजाने में जमा कराने के आदेश जारी किए जाये, जिससे कि वर्तमान में चल रही चुनावी प्रक्रिया निष्पक्ष एवं स्वतंत्र रूप से सम्पन्न हो सके जो कि न्यायोचित होगा. Code of Conduct Violation

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker