राजनीति

Voting after seven rounds : शादी के साथ फेरे होने के बाद लाल जोड़े में दुल्हन और दूल्हा मतदान केंद्र पहुंच किया मतदान

Voting after seven rounds : धर्म गुरु और प्रबुद्ध जन चुनाव नजदीक आने के बाद से मतदाताओं से लगातार अपील कर रहे थे. Voting after seven rounds

कि वह अधिक से अधिक संख्या में मतदान केंद्रों में पहुंचे और शहर हित में मतदान करें.

सतना – जिस समय का सभी लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे थे आखिरकार वह घड़ी आ ही गई मौका है शहर का प्रथम नागरिक महापौर और क्षेत्रीय पार्षद चुनने का शहर के प्रबुद्ध जन लगातार अधिक से अधिक मतदान हो इसके लिए लोगों से अपील कर रहे हैं.

Voting after seven rounds : शादी के साथ फेरे होने के बाद लाल जोड़े में दुल्हन और दूल्हा मतदान केंद्र पहुंच किया मतदान
photo by google
बता दें कि सतना जिले की पुष्पराज कॉलोनी निवासी एक जोड़ने मिसाल पेश करते हुए शादी के सात फेरे लेने के बाद मतदान केंद्र पहुंच गए जी हां हाथों में सुर्ख मेहंदी और लाल जोड़े में सजी धजी दुल्हन रैंसी अपने पति अखिल के साथ व्यंकट स्कूल-2 स्थित मतदान केंद्र पहुंचकर मतदान किया, लोकतंत्र को मजबूत करने हेतु दुल्हन रैंसी जैन ने वोट डालकर मिसाल पेश की है. Voting after seven rounds
दरअसल सतना के पुष्पराज कॉलोनी निवासी 29 साल की रैंसी जैन का आज विवाह था, नगर पालिक निगम का चुनाव भी था दुल्हन रैंसी को अपना लोकतांत्रिक कर्तव्य याद था. नतीजतन शादी के फेरे होते ही दुल्हन रैंसी जैन अपने पति अखिल जैन के साथ मतदान केंद्र पहुंची और मतदान किया, रैंसी का सतना में ये आखिरी मतदान था. अब वह ससुराल राजस्थान के भीलवाड़ा की मतदाता हो जाएगी. Voting after seven rounds
Voting after seven rounds : शादी के साथ फेरे होने के बाद लाल जोड़े में दुल्हन और दूल्हा मतदान केंद्र पहुंच किया मतदान
photo by google
नगरी निकाय चुनाव और पंचायत चुनाव के बीच लगातार शहर के धर्मगुरु और प्रबुद्ध जनों ने आम जनमानस से अपील करते हुए कहा था कि मतदान कर हम अपने जिम्मेदारी का सही ढंग से निर्वहन कर सकते हैं उनका कहना है कि मतदान व्यक्ति का चेहरा देखकर नहीं करना चाहिए बल्कि उस व्यक्ति को चुनना चाहिए.
जो वाकई में काबिल हो शहर का या फिर गांव का ऐसा प्रतिनिधि जो जनहित से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात रख सके और जनता की परेशानियों और अड़चनों को सुलझा सके हालांकि कुछ मत जाता है यह भी सोचते हैं कि अगर वे मतदान नहीं करेंगे तो 1 वोट से क्या होगा लेकिन उनकी यह सोच गलत है क्योंकि बूंद बूंद से घड़ा भरता है. एक व्यक्ति को आपके साथ दूसरा भी चुनता है मतदाता का एक-एक वोट शहर के विकास के मार्ग पर आगे ले जाता है. Voting after seven rounds

Back to top button