अनोखी शादी....लड़की देखने आया लड़का,लॉक डाउन में फंसा और फिर ले लिए सात फेरे,वीडियो देखें, - विंध्य न्यूज़


खंडवा —  ना बैंड,ना बाजा ना बारात ना कोई शहनाई एक अनूठी शादी तालियों की गड़गड़ाहट के बीच हुई और बंध गए वैवाहिक जीवन में। जी हां लॉक डाउन में यह नजारे लगातार देखने को मिल रहे हैं। खंडवा में विगत 25 मार्च को महाराष्ट्र से एक लड़का शादी के लिए लड़की देखने आया था। कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉक डाउन की घोषणा की और महाराष्ट्र का यह परिवार खंडवा में फस कर रह गया।

लाख डाउन की वजह से लड़के पक्ष को लड़की वालों के घर ही रहना पड़ा जहां करीब बीते 25 दिनो से रह रहे लड़की और लड़कों की बीज मधुर संबंध हो गए या यूं कहें कि दोनों परिवारों के बीच मेल मिलाप बढ़ा और नितिन और नेहा ने मेहंदी रचा कर  शादी कर ली। 


फिलहाल ना बैंड बाजा,ना शहनाई,ना ही निकली बारात बस दोनो ने एक दूसरे के गले माला डाली और तालियों की गड़गड़ाहट के बीच दोनों सात जन्मों के बंधन में बंध गए। लॉक डाउन के बीच विवाह बंधन में बंधने वाले इस जोड़े ने बताया कि उन्हें इस बात का कोई मलाल नहीं है। कि उनकी शादी में उसने अरमानों के साथ नहीं हो सकी।

इस परिवार ने सोशल मीडिया के माध्यम से सबको शादी की सूचना टिक टॉक बनाकर दी। अब इनका टिक टॉक खूब वायरल हो रहा है। समाज के लोगों को पता चला और फिर वीडियो कॉल से बधाई संदेश का दौर शुरू हो गया। प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर लॉक डाउन के बीच चंद लोगों रिश्तेदारों के साथ मेहंदी रचाने वाले यह जोड़े इन पलों को भी यादगार मानते हैं।

दूल्हा दुल्हन ने कहा
दूल्हा नितिन का कहना है कि लॉक डाउन में हमने शादी की लेकिन इसका कोई मलाल नहीं है। हम लोगों ने अपने परिवार के बीच में, शादी करके इसे यादगार बनाया है तो वहीं दुल्हन नेहा ने कहा कि हमने इस शादी को एन्जॉय किया है ऐसा नही लग रहा कि जैसा सोचा था वैसी शादी नहीं की। हमने टिक टॉक वगैरह से एन्जॉय किया शादी को।