इन्दौर में दुग्ध संघ का ऐतिहासिक निर्णय,30 नवम्बर तक सेकंड डोज वैक्सीन नही लगवाया तो घर नही आएगा दूध

इन्दौर – कोरोना के बचाओ के लिए लगने वाली वैक्सीन के दूसरे डोज के लिए लोग को प्रेरित करने के लिए एक बैठक कलेक्टर मनीष सिंह ने ली बैठक में सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए है कि बचे हुए लोगो को जल्द से जल्द दूसर डोज लगावाया जाए ।

दरअसल कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन का पहला डोज तो शहर में शतप्रतिशत लग चुका है लेकिन दूसरा डोज अभी भी सात लाख से अधिक लोगो ने नही लगवाया है । ऐसे में दोनो डोज के बीच की टाइम गेप बढ़ती जा रही है । इसको लेकर कलेक्टर मनीष सिंह ने जनप्रतिनिधियों ओर अधिकारियों के साथ एक बैठक ली । 30 नवम्बर से पहले जल्द जल्द बचे हुए लोगो को दूसरा डोज लगाने प्रेरित करने की बात कही थी। बैठक में हॉस्पिटल संचालकों, बैंक के प्रतिनिधियों, सहकारी रहवासी समितियों एवं उचित मूल्य की दुकानों के संचालको के साथ दुग्ध संघ भी मौजूद था ! वही बैठक के दौरान कलेक्टर मनीष सिंह ने सभी उचित मूल्य दुकानों के संचालकों को निर्देश दिए कि दुकानों पर राशन लेने आने वाले व्यक्तियों का वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र प्राप्त करने के पश्चात ही उन्हें राशन दिया जाए।

वही दूध विक्रेता संघ के अध्यक्ष भरत मथुरावाले ने गुरुवार सुबह कहा कि दूध विक्रेता घर-घर जाते हैं। जन जागृति के लिए इनकी अहम भूमिका है। दूध विक्रेता फ्रंटलाइन वर्कर है। इनका आम नागरिकों से सीधा संपर्क रहता है, इसलिए जरूरी है कि जहां एक और नागरिक अपना टीकाकरण करवाएं, वहीं दूसरी और 30 तारीख तक नही किसी द्वारा दूसरा डोज नही लगाया जाएगा तो प्रशासन द्वारा टिका लगवाने के लिये कहेंगे फिर भी नही लगवाई जाती है तो अंत समय फिर दूध देना बंद किया जाएगा

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker