देवप्रभाकर शास्त्री 'दद्दा जी' पंचतत्व में विलीन', कटनी स्थित धाम में ली अंतिम सांस,संजय पाठक को सुनें, - विंध्य न्यूज़

दद्दा जी ने एक कक्ष तक नहीं बनाया अपने लिए शिवाय एक वृद्धा आश्रम,गृहस्थ संत देवप्रभाकर शास्त्री ‘दद्दा जी’ की हालत देखते हुए उन्‍हें वेंटीलेटर पर रखा गया था

कटनी । देश की कईं नामी हस्तियों के आध्यात्मिक गुरु और गृहस्थ संत पंडित देवप्रभाकर शास्त्री ‘दद्दा जी’ पंचतत्व में विलीन हो गए हैं। दद्दा शिष्य मंडल के सबसे करीबी विधायक संजय पाठक ने बताया कि उन्होंने रविवार रात 8 बजकर 27 मिनट पर अंतिम सांस ली। दद्दा जी का अंतिम संस्कार दद्दा धाम स्थित श्रीकृष्ण वृद्धाश्रम के पास झिंझरी में सोमवार दोपहर बाद होगा। उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि दद्दा जी के अंतिम समय में मुझे साथ रहने का सौभाग्य मिला यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है। कल दोपहर को दद्दा जी का संस्कार पूरे संम्मान के साथ किया जाएगा।


जिससे पूरे शहर के साथ देश भर में शोक छा गया है दद्दा धाम में उनके शिष्यों की भीड़ लगी हुई है लोग सोशल डिस्टनसिंग बनाते हुए उनके दर्शन कर रहे है,कटनी के बाहर से लगातार दद्दा जी के शिष्य आ रहे है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की पत्नी साधना सिंह चौहान,बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय 
शनिवार से ही दद्दा जी की हालत नाजुक व स्थिर बनी हुई थी। दद्दा जी के खराब स्वास्थ्य की खबर सुनकर रविवार को मध्य प्रदेश के कटनी में बड़ी संख्या में नेता-अभिनेता पहुंच गए थे। दद्दा जी का स्वास्थ्य करीब डेढ़ माह से खराब था। मालूम हो, दद्दा जी को फेफड़ों और किडनी में समस्या थी। साथ ही लकवे का उपचार गंगाराम अस्पताल दिल्ली में चल रहा था।

संजय पाठक ने कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए 27 लाख दिक्षित शिष्यों सहित सभी अनुयायियों से अपील की है कि आप जहां हैं वहीं से दद्दा जी का स्मरण करिए आप जहां पर भी हैं वहीं पर दद्दा जी का आशीर्वाद मिलेगा लाख डाउन संस्कार में सीमित संख्या रखी गई है, संस्कार में पहुंचना आप लोगों के लिए मुश्किल होगा। 

शनिवार रात करीब 11.45 बजे उन्हें एयर एंबुलेंस से दिल्ली से जबलपुर लाया गया था। फिर एंबुलेंस से कटनी स्थित दद्दा धाम लाया गया। यहां शनिवार रात से लेकर रविवार दिनभर दद्दा जी के दर्शनों के लिए शिष्यों की भीड़ उमड़ती रही। दद्दा जी कई वर्षों से कटनी स्थित दद्दा धाम कॉलोनी स्थित अपने निवास में रह रहे थे।

दद्दा जी के दर्शन के लिए भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय, रमेश मेंदोला, अभिनेता आशुतोष राणा, राजपाल यादव,खाद्य मंत्री गोविंद सिंह राजपूत,मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह, अजय सिंह, कटनी पहुंचे थे। सीएम शिवराज सिंह चौहान और पूर्व सीएम कमल नाथ के साथ अनेक लोगों ने उनके निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। दद्दा जी के निधन पर कई हस्तियों सहित राजनेताओं ने ट्वीट कर शोक संवेदना व्यक्त की.

2 thoughts on “देवप्रभाकर शास्त्री ‘दद्दा जी’ पंचतत्व में विलीन’, कटनी स्थित धाम में ली अंतिम सांस,संजय पाठक को सुनें,

  1. I carry on listening to the reports talk about getting boundless online grant applications so I have been looking around for the top site to get one. Could you advise me please, where could i acquire some?

Comments are closed.