दो बार की सांसद नहीं बनबा पाई 39- नेशनल हाईवे,24 घंटे में कर्थुआ में दूसरी बस अनियंत्रित होकर पलटी

कर्थुआ में अनिंयत्रित पलटी यात्री बस,दो दर्जन मुसाफिर घायल, चार की हालत नाजुक, एनएच 39 पर हुआ हादसा,ओवरटेक बना हादसा का कारण, घटनास्थल पर पहुंचे कलेक्टर व एसपी


सिंगरौली 4 मार्च। सीधी-सिंगरौली एनएच-39 निर्माणाधीन फोरलेन स्थित कर्थुआ में तेज रफ्तार बस अनियंत्रित होकर पलट गई। बस में सवार दो दर्जन मुसाफिर घायल हुए हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया है। जहां चार यात्रियों की हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया है। यह हादसा आज शुक्रवार की शाम करीब सवा चार बजे की है। बस में तीन दर्जन से अधिक यात्री सवार थे।

तत्संबंध मेें जियावन टीआई कपूर त्रिपाठी ने बताया है कि हनुमना से बैढऩ आ रही सैफ बस क्रमांक एमपी 66 पी 0977 आवेरटेक करने के दौरान कर्थुआ में अनियंत्रित होकर पलट गई। जिससे मौके पर कोहराम मच गया। बस पलटने में की घटना में दो दर्जन यात्री घायल हुए हैं। पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए देवसर स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया। जहां चार घायलों की स्थिति गंभीर देखकर स्थानीय चिकित्सकों ने उन्हें जिला अस्पताल ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। कलेक्टर व एसपी सहित जिला पंचायत सीइओ घटनास्थल का जायजा लेने पहुंचे। इसके बाद अस्पताल में घायलों का हाल जानने जिला व पुलिस प्रशासन अस्पताल पहुंकर चिकित्सकों को उचित निर्देश दिए हैं। इधर घटनास्थल पर चीख पुकार मच गई थी। स्थानीय लोग मदद के लिए पहुंच गए थे। साथ ही टीआई कपूर त्रिपाठी भी स्टाफ केे साथ घटनास्थल पर पहुंच घायलों को एंबुलेंस के माध्यम से अस्पताल भेजवाने की व्यवस्था में जुट गए थे।


दंपत्ति के साथ पांच साल का बेटा भी घायल
पुलिस ने बताया कि कर्थुआ बायपास सैफ ट्रेवल्स दुर्घटना में ममता मिश्रा 35 वर्ष, कल्पना मिश्रा 22 वर्ष, दिलीप 22 वर्ष व श्रवण गुप्ता 14 गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। जिन्हें बेहतर उपचारार्थ जिला चिकित्सालय रेफर किया गया। जबकि सामान्य रूप से घायल जुलेख खातून 55 वर्ष, अंजली मिश्रा 5 वर्ष, अनामिका मिश्रा 35 वर्ष, प्रवीण मिश्रा 50 वर्ष, गायत्री 37 वर्ष, काशी प्रसाद 65, मोतीलाल केवट 43, जीवा मिश्रा 3 वर्ष को देवसर चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।


48 घंटे में बस पलटने की दूसरी घटना
हाइवे-39 पर 48 घंटे के दौरान बस पलटने की यह दूसरी घटना है। बीते बुधवार को जियावन में द्विवेदी बस के पलट जाने से तीन दर्जन से अधिक लोग घायल हुए थे। दुर्घटना ओवरटेक के चलते हुई थी। शुक्रवार को हुई बस पलटने की घटना भी ओवरटेक के कारण हुई है। हाइवे पर हर दूसरे दिन हो रहे बस हादसों पर रोक नहीं लगने से यात्री घायल हो रहे हैं।


ओवरटेक घटना का प्रमुख कारण: मीना
राष्ट्रीय राजमार्ग 39 पर दो दिन के अंतराल में हुई दो बस दुर्घटना के कारण का पता लगाने कलेक्टर राजीव रंजन मीना, एसपी वीरेंद्र सिंह, सीइओ साकेत मालवीय, एसडीएम ऋषि पवार, एसडीएम आकाश सिंह व चितरंगी एसडीएम नीलेश शर्मा घटना स्थल पर पहुंचे। कलेक्टर ने बताया कि घटना स्थल पर पहुंच कर राष्ट्रीय राजमार्ग 39 का अवलोकन किया। लेकिन दोनों बस हादसे का प्रमुख कारण तेज रफ्तार व ओवरटेक करना माना जा रहा है।

Back to top button