पन्ना की खदान से निकला 1 करोड़ का बेसकीमती हीरा,20 साल से कर रहे थे तलाश

मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में एक कारोबारी को बेस कीमती हीरा मिलने के बाद उसकी किस्मत बदल गई है मध्य प्रदेश में एक बार फिर खदान में यहां मध्यमवर्गीय व्यवसायी ने 5 अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर खदान का आवंटन कराया था। व्यापारी पिछले बीस वर्षों से हीरे की तलाश में है। हीरे की नीलामी 24 फरवरी को होगी।

26.11 कैरेट जैम क्वालिटी का हीरा मिला है

हीरे की कीमत 1 करोड़ से ज्यादा आंकी जा रही है

मध्य प्रदेश के पन्ना मध्यप्रदेश की धरती ने एक बार फिर कीमती हीरा उबला है. एक मिडिल क्लास बिजनेसमैन को 26.11 कैरेट जैम क्वालिटी का हीरा मिला है। इसे डायमंड ऑफिस को सौंप दिया गया है। खनिज एवं हीरा अधिकारी पन्ना रवि पटेल ने बताया कि हीरों को 24 फरवरी को होने वाली हीरा नीलामी में लगाया जाएगा. जिस राशि की बोली लगाई जाएगी, उसमें से 11.5 प्रतिशत रॉयल्टी काट ली जाएगी और शेष राशि हीरा मालिक को दे दी जाएगी।

अपने कीमती हीरों के लिए विश्व प्रसिद्ध पन्ना जिले के एक मध्यमवर्गीय व्यवसायी की किस्मत रातों रात चमक उठी। पन्ना नगर के किशोरगंज मोहल्ले के रहने वाले सुशील शुक्ला को 26.11 कैरेट का कीमती हीरा मिला है. सुशील शुक्ला करीब 20 साल से हीरे की तलाश में हैं। उथली हीरे की खदानों में लगातार मेहनत कर रहा था, लेकिन हीरा नहीं मिला।

हीरा खदान का पट्टा फरवरी में हुआ था

सुशील ने फरवरी को हीरा कार्यालय से कृष्णकल्याणपुर में उथली हीरे की खदान का पट्टा फिर से जारी किया। इसके बाद वह अपने और अपने पांच साथियों के साथ मिलकर खदान में काम करने लगा। फिर उन्हें सोमवार 21 फरवरी को 26.11 कैरेट का कीमती हीरा मिला। हीरा देख सभी की आंखें खुशी से भर गईं। वह तुरंत हीरा कार्यालय पहुंचा और हीरा जमा कर दिया। अब इस हीरे को अगले 3 दिनों में 24 फरवरी को नीलामी के लिए रखा जाएगा।

उम्मीद को कायम रखा और आत्मविश्वास के साथ मेहनत करते रहे..

हीरे को बेचने के बाद 11.5 प्रतिशत रॉयल्टी और 1 प्रतिशत टीडीएस काट लिया जाएगा और शेष राशि हीरा मालिक के खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी। वहीं हीरा कारोबारी सुशील ने बताया कि वह एक मध्यमवर्गीय परिवार से आते हैं. ईंट भट्ठा का काम। वह 20 साल से लगातार हीरे की तलाश में है। उन्होंने उम्मीद नहीं छोड़ी और पन्ना की पन्ना धरती पर विश्वास करके कड़ी मेहनत करते रहे….और आखिरकार उनकी यह मेहनत रंग लाई..

अंत में, पन्ना के रत्नाभ धारा ने सोमवार 21 फरवरी को उनके लिए एक कीमती हीरा उगल दिया। इसके बाद उनकी किस्मत बदल गई। उन्होंने कहा कि अब वह कारोबार बढ़ाएंगे और इस पैसे को कारोबार में निवेश करेंगे. हीरा धारक ने कहा कि वह स्कूल छोड़ने के बाद से हीरों पर काम कर रहा है। ईश्वर की इच्छा कृपा थी कि यह हीरा मुझे मिल जाए। अब बहुत अच्छा लग रहा है। हम बस इतना ही कह रहे हैं कि एक बार किस्मत आजमाने के बाद हमें आगे बढ़ना चाहिए।

img 20220222 wa00356287276087614175770

यह एमराल्ड में पाया जाने वाला चौथा सबसे बड़ा हीरा है

हीरा के अधिकारी पटेल जी ने बताया कि पन्ना जिले में पाया जाने वाला बड़ा हीरा में से अब तक का चौथा हीरा है इसके पहले साल 1961 में सबसे बड़ा 44.33 कैरेट का हीरा (Diamond) मिला था. उसके बाद 2018 में 42.29 व 2019 में 29.46 कैरेट का हीरा मिला था उसके यह चौथा बड़ा हीरा है, जो 26.11 कैरेट का है.इस हीरे की अनुमानित कीमत एक करोड़ से ज्यादा बताई जा रही है.

हीरा अधिकारी रवि पटेल ने बताया कि सुशील शुक्ला करीब 20 साल से हीरे की तलाश में थे। उथले हीरे की खदानों में लगातार मेहनत कर रहे थे। यह चौथा सबसे बड़ा हीरा है। इसे अगली बोली में रखा जाएगा। बोली में जो राशि आएगी उससे 11.5 प्रतिशत रॉयल्टी काट ली जाएगी और शेष राशि हीरा मालिक को दे दी जाएगी।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker