बाघिन T30 की सिंगरौली के दो शिकारियों ने ऐसे किया शिकार,गोपद नदी के किनारे मिला अवशेष

सिंगरौली 22 नवम्बर। संजय रिजर्ब टाईगर दुबरी के बाघिन की हुई मौत की गुत्थी धीरे-धीरे सुलझने लगी है। बाघिन की हुई मौत को लेकर प्रदेश भर में हड़कम्प मचा हुआ है। बाघिन के कातिल सरई थाना क्षेत्र के बंजारी गांव के बताये जा रहे हैं। जहां अब तक संजय टाईगर रिजर्ब, वन परिक्षेत्र पूर्वी सरई व थाना सरई की संयुक्त टीम ने दो आरोपियों को दबोचने में सफल रही है। वहीं आधा दर्जन आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

गौरतलब हो कि सीधी जिले के संजय टाईगर रिजर्ब के एक युवा बाघिन टी-30 की पिछले 5 नवम्बर की शाम से लोकेशन नहीं मिल रहा था। इसके बाद संजय टाईगर रिजर्ब सीधी व रेंज की तीन टीम तथा सिंगरौली जिले के वन अमले की संयुक्त टीम तलाश में जुट गयी। इस दौरान खोजी कुत्ते का भी सहारा लिया गया। इस दौरान सुराग मिला कि बंजारी के समीप सीधी जिले के अंदर गोपद नदी के किनारे बाघिन का अवशेष मिला। अनुमान लगाया गया कि बाघिन की हत्या हाईटेंशन करंट से की गयी थी। इस सिलसिले में सरई थाना क्षेत्रांतर्गत बंजारी गांव के दो शिकारी प्रेमलाल एवं राजू सिंह को सुराग के आधार पर हिरासत में ले लिया गया है। बाघिन की हत्या करने में करीब आधा दर्जन आरोपी अभी भी फरार हैं। जिनके विरूद्ध वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों की धर पकड़ में सीसीएफ संजय टाईगर रिजर्ब वायपी सिंह, डीएफओ हरिओम के साथ-साथ उप वन मण्डलाधिकारी देवसर ऋषिभा सिंह नेताम, रेंजर रामऔतार साहू सहित दर्जनों वन अमला लगा हुआ है।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker