भिंड का मडवारी गांव बना टापू,सिंध नदी का रौद्र रूप देख मासूम बच्ची रोते हुए मांगी मदद,देखें Video

भिंड — मध्य प्रदेश में नदियां अपना रौद्र रूप दिखा रही हैं। इन्हीं में से भिंड जिले से होकर गुजरती है सिंध नदी । सिंध नदी में इस बार ऐसी ऐतिहासिक बाढ़ आई है कि लोगों ने ऐसी बाढ़ अपने जीवन काल में कभी नहीं देखी। करीब दर्जन भर गांवों में लोग फंसे हुए हैं । उन्हें निकालने का प्रयास जिला प्रशासन और एनडीआरएफ की टीम के द्वारा किया जा रहा है। लेकिन कोई ऐसी जगह जहां अभी भी NDRF नहीं पहुंच पाई है ऐसा ही जिसका मर्डर वारी गांव है जहां की प्रियंका गोयल नाम की मासूम बच्ची ने सांध नदी का रौद्र रुप देख डरी हुई है। लड़की ने वीडियो बनाकर मदद की गुहार लगाई है।

प्रियंका गोयल नाम की लड़की रोते हुए बताया कि पूरा गांव पानी में डूब चुका है कई घर बह गए हैं गांव टापू में तब्दील हो गया है और यह टापू भी अब दो डूबने वाली है रोते हुए उसने कहा कि जल्दी से यहां बचाव दल भेजा जाए जिससे उसकी जान बचाई जा सके।

बता दें कि भारौली थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सुन्नई का पूरा गांव में रात को करीब 60 से 70 लोग फंसे रह गए थे। इनको निकाला जाना था। बार-बार ग्रामीण रात के समय में केवल टॉर्च दिखाकर इशारा कर रहे थे कि हम यहां पर हैं। मुस्तैदी के साथ कलेक्टर और एसपी ने मोर्चा संभाला और एनडीआरएफ टीम को रेस्क्यू मे लगाया । करीब 2 घंटे चले रेस्क्यू में 60 लोगों को गांव से बाहर निकाल कर सुरक्षित स्थल पर भेजा गया । इस दौरान जिला प्रशासन के सभी अधिकारी और पुलिस बल यहां इनकी सुरक्षा में मौजूद रहा और एक सफल रेस्क्यू को अंजाम दिया गया। लेकिन आपदा इतनी विकराल है कि कुछ ग्रामीण तो निकलने के बाद भी अपने आंसुओं को रोक नहीं सके और फफक फफक कर रो पड़े। उन्हें स्वयं के बचने से ज्यादा कल की चिंता सता रही थी कि कल क्या होगा जब राशन पानी नहीं होगा तो जीवन कैसे कटेगा।

लड़की को सुनने के लिए लिंक पर क्लिक करें https://youtube.com/shorts/ZWHRegx-e9E?feature=share

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker