मप्र में 10 जिले कोरोना से अछूते, जानें अन्य जिलों के आंकड़े - विंध्य न्यूज़

भोपाल: मध्य प्रदेश में  वैश्विक महामारी कोविड-19 संक्रमण का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है. राज्य में सिर्फ 10 जिले ही ऐसे बचे हैं जहां तक कोरोना ने अब तक दस्तक नहीं दी है. इसके अलावा 42 जिलों तक कोरोना ने अपनी चैन बना ली है. सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज और मरने वालों की संख्या के मामले में इंदौर, उज्जैन और भोपाल,जबलपुर जिले हैं. राज्य में कोरोना की रोकथाम के लिए लॉकडाउन पर सख्ती से निपटा जा रहा है,एक जिले से दूसरे जिले तक जाना भी प्रशासन की अनुमति से ही संभव हो पा रहा है. उसके बावजूद कोरोना का दायरा बढ़ता ही जा रहा है. अब तो राज्य के 52 जिलों में से 42 यानि लगभग 80 प्रतिशत हिस्से में कोरोना ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है.

3800 कोरोना मरीजों की पहुँची संख्या 
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े बताते है कि राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या 3800 हो गई है. हर दिन संक्रमितो के आंकड़ों में वृद्धि हो रही है इंदौर में सबसे ज्यादा मरीज हैं, यहां संख्या 1938 हो गई है. वहीं भोपाल, उज्जैन,जबलपुर वे स्थान है जहां मरीजों की संख्या तीन अंकों में है. इसके अलावा मुरैना, खरगोन , बड़वानी , छिंदवाड़ा, विदिशा, होशंगाबाद, खंडवा, देवास, रतलाम, धार, रायसेन, शाजापुर, मंदसौर, आगर मालवा, बुरहानपुर, सागर, ग्वालियर, नीमच, श्योपुर, भिंड, सतना, अलिराजपुर, हरदा, अनूपपुर, शिवपुरी, टीकमगढ़, रीवा,सीधी, शहडोल, डिंडोरी, अशोकनगर, झाबुआ, सीहोर, गुना, बैतूल, मंडला, पन्ना, सिवनी, में कोरोना मरीज मिले है।

10 जिले कोरोना से अछूते

मध्यप्रदेश में राहत भरी खबर या है कि अभी भी छतरपुर, दमोह, दतिया, निवाड़ी, सिंगरौली, उमरिया, राजगढ़, नरसिंहपुर, बालाघाट और कटनी ऐसे जिले है जहां कोरोना का मरीज नहीं है,यह जिले कोरोना से अछूते हैं. हालांकि निवाड़ी में एक व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव होने की बात सामने आई थी मगर बाद में उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई. बुंदेलखंड के सात जिलों में से चार जिले छतरपुर, दमोह, दतिया व निवाड़ी ऐसे हैं जहां कोरोना के मरीज नहीं है. यहां बीते दिनों हजारों मजदूर पलायन कर अपने गावों को लौटे हैं. राज्य के लिए यह राहत देने वाली बात है कि यहां लगातार मरीज स्वस्थ होकर घर लौट रहे हैं. अब तक 1776 मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं. वहीं 221 मरीजों की बीमारी के चलते मौत हो चुकी है