रीवा लोकायुक्त ने पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा फिर उतरवा लिए शर्ट, यह रही बड़ी वजह

पकड़े गए पटवारी की पहचान राम नरेश रावत सर्किल रामपुर तहसील नईगढ़ी जिला रीवा के रूप में की गई है। इस कार्रवाई के बाद पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया.

रीवा।  मध्य प्रदेश में रीवा लोकायुक्त टीम ने भ्रष्ट पटवारी को 1500 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। पटवारी भू-खंड के नामांतरण के लिए रकम मांग रहा था। जिसके बाद फरियादी ने रीवा लोकायुक्त टीम ने शिकायत की थी। शिकायत के बाद लोकायुक्त टीम ने कार्रवाई की है। पकड़े गए पटवारी की पहचान राम नरेश रावत सर्किल रामपुर तहसील नईगढ़ी जिला रीवा के रूप में की गई है। इस कार्रवाई के बाद पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया.

लोकायुक्त कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार रमा निवास तिवारी ग्राम खूझ कटरा तहसील नईगढ़ी जिला रीवा ने लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई थी कि हल्का पटवारी राम नरेश रावत द्वारा जमीन की इस्तलाबी दर्ज करने के एवज में 2000 रुपये की रिश्वत की मांग की जा रही है। बातचीत करने में उक्त मामला 15 सौ रुपये में तय हो गया है।जहां नईगढ़ी तहसील के रामपुर सर्किल में पदस्थ पटवारी को 1500 रुपए की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त टीम ने रंगेहाथ पकड़ा है। बताया जा रहा है कि आरोपी पटवारी भू-खंड के नामांतरण के लिए रकम मांग रहा था। ऐसे में पीड़ित ने लोकायुक्त एसपी के पास पहुंच शिकायत की । 

शर्ट हुई जब्त : बताया गया कि रिश्वत लेने के बाद पटवारी ने रिश्वत की राशि जेब में रख ली थी जिसके बाद मौके पर पहुंची लोकायुक्त पुलिस ने न केवल उसके जेब से रिश्वत के पैसे बरामद किए बल्कि शर्ट को भी जप्त कर लिया है।लोकायुक्त एसपी के आदेश पर बुधवार सुबह देवतालाब स्थित प्राइवेट रूम के सामने पटवारी रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया। लोकायुक्त की 15 सदस्यीय टीम पटवारी को लेकर रेस्ट हाउस पहुंची है। 

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker