रीवा विधायक राजेंद्र शुक्ला का बड़ा फैसला,नई शिक्षा नीति छात्रों के समग्र विकास में होगी सहायक –

शासकीय ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय के फैकल्टी डेवलपमेन्ट प्रोग्राम के तहत ई-लर्निग माड्यूल तथा कन्टेट डेवलपमेन्ट पर आयोजित कार्यशाला के उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल रहे जबकि अध्यक्षता महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. अर्पिता अवस्थी द्वारा की गई।
    

कार्यशाला में पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल ने अपने उद्बोधन में कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री के निर्देशन में नई शिक्षा नीति का क्रियान्वयन किया जा रहा है। नई शिक्षा नीति के माध्यम से छात्रों का समग्र विकास होगा। उन्होने कहा कि यह महाविद्यालय प्रदेश का उत्कृष्ट महाविद्यालय है और इसकी अपनी ऐतिहासिक गरिमा है। नई शिक्षा नीति और नवाचारी प्रयोग पर पॉच दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेन्ट प्रोग्राम से प्राध्यापकों एवं छात्रों को लाभ होगा। इस वर्कशाप के माध्यम से ई-लर्निग माड्यूल तथा कन्टेट डेवलपमेन्ट की विभिन्न तकनीकों का प्रशिक्षण दिया जायेगा, जो लाभकारी होगा।
    

प्राचार्य डॉ. अर्पिता अवस्थी ने कहा कि नई शिक्षा नीति और नवाचारी प्रयोग के अन्तर्गत महाविद्यालय में पॉच दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेन्ट प्र्रोग्राम के माध्यम से शिक्षकों को ई लर्निग के क्षेत्र में सहायता प्राप्त होगी। उन्होंने बताया कि नई शिक्षा नीति के तहत महाविद्यालय में स्नातक स्तर का सीबी.सी पाठ्यक्रम तैयार कर लिया गया है।    कार्यशाला में एक्सीलेंस संस्थान भोपाल के डॉ. अनुज हुंडेत का व्याख्यान हुआ। डॉक्टर हुंडेत ने पीपीटी बनाने की विधि,  एमएस ऑफिस 19 का प्रयोग, एनिमेशन का प्रयोग, वीडियो रिकॉर्डिंग का प्रयोग, 3डी एनीमेशन, का प्रयोग आज के बारे में सूक्ष्मता के साथ समझाया। उन्होंने प्रतिभागियों से प्रश्न पूछ कर ऑनलाइन प्रशिक्षण भी दिया। इससे पूर्व कार्यक्रम के उद्देश्य के विषय में डॉ. महेश शुक्ल ने जानकारी दी। कार्यशाला के उद्घाटन सत्र का संचालन डॉ. अखिलेश शुक्ल ने किया। डॉ. एसपी शुक्ला द्वारा आभार प्रदर्शित किया गया। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राध्यापक उपस्थित रहे।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker