रेलवे अधिग्रहीत जमीन में बेखौफ बेजा कब्जाधारी सक्रिय,प्रशासन की भूमिका पर उठ रहा सवाल, - विंध्य न्यूज़

अनुरोध शुक्ला-विंध्य न्यूज़-संवाददाता-देवसर

सिंगरौली देवसर – #सीधी-सिंगरौली रेल लाइन तय समय से भूमि अधिग्रहण और टेण्डर प्रक्रिया में देरी होने के कारण काफी पीछे चल रही है. रेलवे जमीन अधिग्रहण करने के लिए भूमि अर्जन विभाग की ओर से किसानों को सेक्शन-9 का नोटिस भेजा जा चुका है बावजूद इसके रेलवे द्वारा अधिग्रहित जमीन में बेजा कब्जा धारी सक्रिय हैं और दिन रात रेलवे अधिग्रहीत की जाने वाली भूमि पर का अवैध निर्माण किया जा रहा है । इस अवैध निर्माण में राजस्व विभाग देवसर के पटवारी,नायब तहसीलदार सहित तहसीलदार की भूमिका पर भी सीधे तौर पर सवाल खड़े कर रहे हैं.इस अवैध निर्माण से सरकार को कई करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ेगा. अगर इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो जाए तो कई पटवारियों पर गाज गिरना तय है।

पटवारी नहीं मान रहे नायब तहसीलदार के आदेश !

रेलवे अधिग्रहित भूमि पर रात दिन अवैध कब्जा किया जा रहा है लेकिन देवसर नायव तहसीलदार व तहसीलदार इस बात से सीधे तौर पर इंकार कर रहे हैं। अधिकारी सिर्फ पटवारियों के प्रतिवेदन पर ही भरोसा जताते हैं शिकायत को झूठा बता कर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नायब तहसीलदार ने इस जमीन की मिसल बनाने के लिए पटवार सर्कल की पटवारी को मौखिक आदेश दिए थे लेकिन कई सप्ताह बीतने के बाद भी मिसल नहीं बनी है और कई लोगों ने इस भूमि पर अवैध कब्जे किए हुए हैं,कईयों ने यहां पक्का मकान इत्यादि बनाए हुए हैं। यह कहना गलत नहीं होगा कि नायब तहसीलदार आदेशों को भी पटवारी नहीं मान रहे हैं।

पटवारियों के मिलीभगत के बिना अवैध निर्माण संभव नहीं 
राजस्व विभाग के पटवारियों का दायित्व है कि वह अपने सर्किल का भ्रमण कर यथा स्थिति अपने मातहत अधिकारियों को सूचित करें. लेकिन बताया जा रहा है कि पटवारी भी विभाग को गुमराह कर अवैध निर्माण की जानकारी अपने वरिष्ठ अधिकारियों को नहीं दे रहे हैं. सूत्रों की मानें तो रेलवे अधिग्रहित जमीन में हो रहे निर्माण के एवज में पटवारी सभी काश्तकारों से मोटी रकम लेकर उन्हें निर्माण करने की खुली छूट दे रखी है. यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि पटवारियों के मिलीभगत के बिना अवैध निर्माण संभव नहीं होगा।


इनका कहना है
अवैध निर्माण के संबंध में मुझे जानकारी नहीं है आपके द्वारा यह जानकारी मुझे मिली है इसकी जांच करवाता हूं संबंधित पटवारी यदि इस अवैध निर्माण में लापरवाही दिखती है तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। दिवाकर सिंह -तहसीलदार देवसर

3 thoughts on “रेलवे अधिग्रहीत जमीन में बेखौफ बेजा कब्जाधारी सक्रिय,प्रशासन की भूमिका पर उठ रहा सवाल,

  1. I don’t even know how I ended up here, but I thought this post was good. I don’t know who you are but certainly you are going to a famous blogger if you are not already 😉 Cheers!

Comments are closed.