लज्जा भंग करने के आरोप में अधेड़ को कारावास - विंध्य न्यूज़

लज्जा भंग करने के आरोप में अधेड़ को कारावास

बैढ़न-संवाददाता, दीपक वर्मा की रिपोर्ट

बैढ़न,सिंगरौली। विशेष न्यायालय द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश जीतेन्द्र कुमार परासर के न्यायालय में थाना चितरंगी के अपराध क्रमांक 253/2019 धारा अंतर्गत 354ए 354(अ)(2) सहपठित धारा 354(।)(1)(प) व धारा 452 भादसं और धारा 8 सहपठित धारा 7 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण -अधिनियम 2012 के अधीन आरोपी राज कुमार गुप्ता उम्र 56 वर्ष थाना चितरंगी जिला सिंगरौली को अपराध की प्रकृति और अभियुक्त के द्वारा किए गए कृत्य उसकी आयु व स्वास्थ्य के दृष्टिगत अभियुक्त द्वारा किये गए अपराध के लिये धारा 452 भादसं के अधीन 01 वर्ष के कारावास व एक हजार रूपये के अर्थदण्ड से तथा अधिनियम 2012 की धरा 8 के अधीन तीन वर्ष की अवधि के कारावास व तीन हजार रूपये के अर्थदण्ड से दंडित किया जाता है और अर्थदण्ड की राषि के व्यतिक्रम में क्रमश: एक माह व तीन माह की अवधि का सश्रम कारावास मुख्य कारावास से पृथक से भुगताया जाएगा तथा मुख्य कारावास की सजा कठोर एवं समवर्ती होगी। अभियुक्त द्वारा विचाारण के दौरान भोगी गई निरोध की अवधि उसकी सजा में समायोजित की जाएगी।
मीडिया प्रभारी आनन्द कमलापुरी सहायक जिला अभियोजन अधिकारी के अनुसार घटना यह कि आरोपी घटना दिनांक मई 2019 को सुबह 9.30 बजे उसके घर पर आया और माता पिता के बारे में पूछा और यह पता लगने पर कि पीडिता के माता पिता घर पर नहीं है तब घर के अंदर आकर पीडिता के साथ छेडछाड करने लगा और जब पीडिता द्वारा धक्का दिया गया तो वह बाहर चला गया। जब बाहर देखा कि कोई नहीं है तो वह फिर से पुन: वापस घर के अंदर आ गया और छेडखानी की। पीडिता ने घटना की बात अपने माता पिता को बताई थी। जब माता पिता ने चितरंगी थाना में रिपोर्ट लेख कराई थी। इस प्रकार पीड़िता की ओर से अतिरिक्त जिला अभियोजन अधिकारी आशुतोष गरवाल द्वारा अभिलेख संकलित साक्ष्य से संदेह से परे यह साबित करने में सफल रहे है कि घटना दिनांक व स्थान पर अभियुक्त ने पीडिता की लज्जा भंग करने के आशय से उसके मानव निवास के रूप में प्रयोग की जा रहे घर में घुसकर उस पर आपराधिक बल या हमले का प्रयोग कर उसके साथ छेडखानी की। इस प्रकार अभियोजन अभियुक्त के विरूद्ध इस संबंध में प्रारंभिक तथ्य स्थापित करने में सफल रहा। जहां से न्यायालय ने आरोपी को दण्डित कर जेल भेज दिया।

3 thoughts on “लज्जा भंग करने के आरोप में अधेड़ को कारावास

  1. I have not checked in here for a while since I thought it was getting boring, but the last several posts are good quality so I guess I will add you back to my daily bloglist. You deserve it my friend 🙂

Comments are closed.