uncategorized

विधायक नारायण त्रिपाठी ने आंदोलन का किया ऐलान,बोले हमारा पुराना विंध्य प्रदेश वापस कर दें,

अक्सर अपनी कार्यशैली को लेकर सुर्खियां बटोरने वाले बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी एक बार फिर सुर्खियों में है बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा की नसीहत को रद्दी की टोकरी में फेंकते हुए अलग से विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग करते हुए एक बड़ा आंदोलन करने का ऐलान कर दिया है. अलग बिन प्रदेश के प्रयासों में जुटी बीजेपी विधायक रीवा में अलग-अलग संगठनों के साथ बैठक कर उनसे समर्थन मांगा है और 27 जनवरी को चुरहट में बड़ा आंदोलन करने का ऐलान किया है. यह बात बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने रीवा स्थित राज निवास में प्रेस कांफ्रेंस में कही है जहां उन्होंने दोबारा विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग की है।

कैबिनेट बैठक में शिवराज का बड़ा ऐलान,पोस्टिंग व ट्रांसफर पर लगा प्रतिबंध हटेगा

बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी एक बार फिर अपने ही पार्टी के खिलाफ एलान ए जंग शुरू कर दी है रीवा में अलग-अलग संगठनों के साथ पक्का नारायण त्रिपाठी में संगठनों से अलग विंध्य प्रदेश की दिमाग उठाने के लिए समर्थन मांगा है और 27 जनवरी को अपनी मांग को बुलंद करने के लिए चुरहट में एक बड़ा आंदोलन करने का ऐलान किया है। बता दें कि पिछले दिनों नारायण त्रिपाठी अलग विंध्य प्रदेश की मां को लेकर सतना जिले के उचेहरा में भी सभा की थी तब उन्होंने कहा था कि पार्टी छोड़ हर व्यक्ति प्रमोशन चाहता है हम सपा में थे कांग्रेस में गए प्रमोशन मिला कांग्रेस से भाजपा में आए प्रमोशन मिला उन्होंने तब कहा था कि हम नया प्रदेश बनाने को नहीं बोल रहे हैं हम चाहते हैं कि हमारा पुराना विंध्य प्रदेश ही वापस किया जाए।

किशोर ने खुद के अपहरण की रची साजिश,वजह जानकर हो जाएंगे हैरान SIDHI NEWS

मैहर से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि दोबारा विंध्य प्रदेश बनाए जाने पर वह अपना सर्वस्व न्यौछावर कर देंगे । इस दौरान वह किसी भी तरीके से पीछे नहीं हटेंगे वह पार्टी द्वारा दिए गए आदेशों पर पारंपरिक सवाल को लेकर कहा कि वह अपनी पार्टी के आदेशों का पालन करते रहेंगे लेकिन दोबारा विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग को लेकर पीछे नहीं हटेंगे । इसके लिए एक बड़ा जन आंदोलन भी किया जाएगा। विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि अलग प्रदेश बनाए जाने को लेकर छात्र-छात्राओं से चर्चा करेंगे जिससे इस मांग को मजबूती मिल सके।

शिवराज सीधी से नाराज,विकास के कोरे वादों का दंश झेल रहा जिला- आर.बी.

बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब अलग से विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग की जा रही हो इससे पहले भी इसी मांग को लेकर कई बार चर्चा हो चुकी है । छह दशकों से अलग विंध्य प्रदेश बनाने की मांग की जा रही है । 1 नवंबर 1956 को जब मध्य प्रदेश का गठन हुआ था तभी से अलग विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग जारी है वहीं इसी संबंध में अलग मध्यप्रदेश की मांग को लेकर विधायक नारायण त्रिपाठी बीते कुछ दिनों से मांग कर रहे हैं।

हाई कोर्ट ने सरकार और चुनाव आयोग को दिया नोटिस,ये रही वजह

बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी द्वारा लगातार अलग विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग की बात सुनते ही बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा ने नारायण त्रिपाठी से बात करनी चाहिए। इसे लेकर भोपाल में नारायण त्रिपाठी और बीजेपी में सदस्य बीडी शर्मा के बीच एक बंद कमरे में चर्चा हुई। जहां से खबर आ रही थी कि प्रदेश अध्यक्ष ने अलग विंध्य प्रदेश की मांग उठाने को लेकर नारायण त्रिपाठी से सवाल जवाब किया था ।ऐसे में उन्होंने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष की नसीहत को भी दरकिनार करते हुए कहा कि उनका अलग विंध्य प्रदेश की मांग को लेकर लड़ाई जारी रहेगी।

दिल्ली दौरे से लौटे सीएम शिवराज, मंत्रियों से मिलकर की ये मांग,विन्ध्य के लिए कुछ भी नही मांगा !

विधायक ने कहा कि उन्हें अपना पुराना विंध्य प्रदेश वापस लौटा दिया जाए ऐसा नहीं हो रहा है तो वह अब जनसंपर्क के जरिए लोगों से मुलाकात करेंगे और लोगों के बीच जाकर विंध्य प्रदेश के इतिहास के बारे में सभी को जानकारी देंगे। इधर उन्होंने कहा कि छोटे-छोटे राज्य बनाया जाए ऐसा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई का सपना था । इसी सपने को साकार करने के लिए उन्होंने अलग विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग उठाई है। विधायक के विंध्य प्रदेश बनाए जाने की मांग पर रीवा शहडोल संभाग की फिजा बदल गई है यहां हर आम खास अब विधायक की तारीफ कर रहा है और विधायक की मांग को जायज बता रहा है।

महिला को धमकाने पर टीआई पर FIR,हो सकते है निलंबित ! जाएंगे जेल ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker